close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान: अपराधियों को पकड़ने के लिए युवक ने बनाया सॉफ्टवेयर, ऐसे करेगा पुलिस की मदद

रविकांत का कहना है कि बदलते दौर में अपराधी भी हाईटेक हो गए है. उनकों पता होता है कि पुलिस के पास पकड़ने का सबसे ज्यादा आसान तरीका मोबाईल होता है.

राजस्थान: अपराधियों को पकड़ने के लिए युवक ने बनाया सॉफ्टवेयर, ऐसे करेगा पुलिस की मदद
युवक द्वारा बनाए गए इस सॉफ्टवेयर का नाम काबिल रखा गया है.

भीलवाड़ा: बापूनगर के रविकांत वैश्णव ने ऐसा सॉफ्टवेयर बनाया, जिससे होटल, गेस्ट हाउस और सराय में छिपे अपराधिकयों को आसानी से पकड़ा जा सकेगा. एक क्लिक में थाने पर अपराधी के छिपने के ठिकाने का पता चल जाएगा. यह सब होगा सॉफ्टवेयर ‘काबिल इंडिया डॉट कॉम’ से. थाने में बैठे पुलिसकर्मियों को ईमेल या एसएमएस से अपराधियों के बारे में सूचना मिल सकेगी. इससे पुलिस की राह और आसान हो सकती है.

रविकांत का कहना है के जितने भी फरार अपराधी है, उनकी जानकारी पुलिस इस सॉफ्टवेयर में डाल दे. हर थाना स्तर पर अपने भगोड़े और हार्डकोर अपराधियों की सूचना सॉफ्टवेयर पर डालने के बाद एक यूजर लिंक क्षेत्र के सभी होटल, लोज, धर्मशाला, गेस्ट हाउस संचालक को दिए जाए. जब कोई अपराधिक प्रवृति का व्यक्ति वहां रूकने को आएगा तो उसकी जानकारी जैसे ही होटल संचालक लिंक में फीड करेंगे, पुलिस तक अपराधी की पूरी डिटेल के साथ मेल और एसएमएस के जरिए अलर्ट पहुंच जाएगा. इससे पुलिस वहां पहुंच कर अपराधियों को दबोच सकती है. 

रविकांत का कहना है कि बदलते दौर में अपराधी भी हाईटेक हो गए है. उनकों पता होता है कि पुलिस के पास पकड़ने का सबसे ज्यादा आसान तरीका मोबाईल होता है. ऐसे में अपराध करने के बाद वह मोबाईल का उपयोग कम कर देते हैं. लिहाजा मोबाईल लोकेशन के आधार पर पुलिस उन तक नहीं पहुंच पाती. ऐसे में पुलिस को भी अपराधियों से दो कदम आगे चलने के लिए बदलाव की जरूरत है. ऐसे में रविकांत का सॉफ्टवेयर पुलिस के लिए कारगर साबित हो सकता है. इसके लिए रविकांत पुलिस अधीक्षक से मुलाकात कर नए सॉफ्टवेयर के बारे में उनकों जानकारी देंगे.