जयपुर ACB की बड़ी कार्रवाई, PWD विभाग के कर्मचारियों को रिश्वत लेते किया गिरफ्तार

रिश्वत में बड़ी रकम लेते हुए पकड़े गए आरोपी अशोक कुमार वर्मा है.

जयपुर ACB की बड़ी कार्रवाई, PWD विभाग के कर्मचारियों को रिश्वत लेते किया गिरफ्तार
प्रतीकात्मक तस्वीर.

जयपुर: राजधानी में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने बड़ी कार्रवाई करते हुए पीडब्ल्यूडी (लोक निर्माण विभाग) के एक रिटायर्ड अधिकारी समेत दो अफसरों को 1.26 लाख रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया. 

रिश्वत की यह रकम एक ठेकेदार से पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन में करवाए गए कार्यों का बिल पास करने की एवज में मांगी गई थी. एसीबी के डीजी बनने के बाद बीएल सोनी के निर्देशन में घूसखोरों के खिलाफ यह पहली बड़ी कार्रवाई एडिशनल एसपी चंचल मिश्रा के नेतृत्व में गठित टीम ने की. इससे पीडब्ल्यूडी महकमे में हड़कंप मच गया.

यह भी पढ़ें- देशभर की सरकारों में सबसे अच्छा काम कर रही राजस्थान की गहलोत सरकार, विदेश में चर्चे

जानकारी के अनुसार, रिश्वत में बड़ी रकम लेते हुए पकड़े गए आरोपी अशोक कुमार वर्मा है. वह पीडब्ल्यूडी में एक्सईएन है. वर्तमान में पुलिस मुख्यालय के अधीन पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन में डेपुटेशन पर कार्यरत है. जबकि दूसरा आरोपी जीएस चाहर है. वह पीडब्ल्यूडी में एईएन के पद से रिटायर हो चुका है. वह वर्तमान में संविदा पर पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन पीएचक्यू में कार्यरत है.

एसीबी ने ऐसे की कार्रवाई
एसीबी को शिकायत मिली थी कि पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन में करवाए गए निर्माण कार्य के बिलों को पास करने की एवज में एक्सईएन अशोक वर्मा रिश्वत में मोटी रकम मांग रहे है. यह रकम एईएन गिर्राज सिंह चाहर के मार्फत मांगी जा रही थी. तब एडिशनल एसपी चंचल मिश्रा को शिकायत का सत्यापन करवाया गया. सही पाए जाने पर शनिवार को ट्रेप रचा गया. 

परिवादी झोटवाड़ा स्थित एक मकान में रिश्वत की रकम लेकर पहुंचा. वहां एसीबी टीम ने जीएस चाहर और अशोक वर्मा को गिरफ्तार कर लिया. उनके कब्जे से 1.26 लाख रुपए बरामद कर लिया. उनसे पूछताछ की जा रही है.