शक्तावत के निधन से Congress में शोक की लहर, इस तरह से Emotional हुए Sachin Pilot

शक्तावत के निधन पर सीएम गहलोत, सचिन पायलट और राजस्थान कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा (Govind Singh Dotasra) ने शोक संवेदना प्रकट की.

शक्तावत के निधन से Congress में शोक की लहर, इस तरह से Emotional हुए Sachin Pilot
कांग्रेस के सियासी घमासान के दौरान शक्तावत सचिन पायलट कैंप के साथ थे.

जयपुर: राजस्थान (Rajasthan) में सियासी घमासान के दौरान सचिन पायलट (Sachin Pilot) खेमे का अहम हिस्सा रहे विधायक रहे गजेंद्र सिंह शक्तावत (Gajendra Singh Shaktawat) का बुधवार को इलाज के दौरान दिल्ली (Delhi) में निधन हो गया. उनका अंतिम संस्कार कल किया जाएगा. 

यह भी पढ़ें- Congress के विधायक Gajendra Singh Shaktawat का निधन, गहलोत-पायलट ने जताया शोक

शक्तावत के निधन पर सीएम गहलोत, सचिन पायलट और राजस्थान कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा (Govind Singh Dotasra) ने शोक संवेदना प्रकट की. शक्तवात के निधन के बाद अब राजस्थान विधानसभा (Rajasthan Legislative Assembly) में कुल विधायकों की संख्या 196 रह गई है.

यह भी पढ़ें- Rajasthan Congress के धरने में पिघली 'सियासी तनाव' की बर्फ, एकसाथ दिखे Gehlot-Pilot!

लीवर के इंफेक्शन का इलाज करवा रहे थे गजेंद्र सिंह शक्तावत 
राजस्थान (Rajatshan) के पूर्व गृह मंत्री रहे गुलाब सिंह शक्तावत (Gulab Singh Shaktawat) के बेटे और राजस्थान सरकार (Rajasthan Government) में संसदीय सचिव रह चुके कांग्रेस विधायक गजेंद्र सिंह शक्तावत का बुधवार को निधन हो गया. गजेंद्र सिंह शक्तावत उन 18 विधायकों में से एक थे, जो सचिन पायलट के साथ मानेसर कैंप में गए थे. गजेंद्र सिंह शक्तावत को लीवर में इंफेक्शन था और वह दिल्ली के इंस्टिट्यूट ऑफ लीवर एंड बाइलेरी साइंस में इलाज करवा रहे थे, इस दौरान ही बुधवार सुबह अंतिम सांस ली है. गजेंद्र सिंह शक्तावत को इससे पहले कोरोना भी हुआ था हालांकि, वह कोरोना से जंग जीत गए थे, लेकिन लीवर में इंफेक्शन की शिकायत थी. इसी के चलते वह दिल्ली के आईएलबीएस अस्पताल में इलाज करवा रहे थे.

उनके निधन पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot), प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा, पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट, चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा (Raghu Sharma), परिवहन मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास (Pratap Singh Khachariyawas), मुख्य सचेतक महेश जोशी सहित राजस्थान के मंत्री विधायकों ने शोक व्यक्त किया है. शक्तावत के निधन पर आज मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कैबिनेट मीटिंग सहित सभी कार्यक्रम निरस्त कर दिए. अशोक गहलोत लगातार 15 दिनों से शक्तावत की कुशल क्षेम पूछ रहे थे.

सीएम अशोक गहलोत ने जताया दुख
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट कर लिखा है कि "कांग्रेस विधायक श्री गजेंद्र शक्तावत के असामयिक निधन पर मेरी गहरी संवेदनाएं. काफी समय से वे बीमार थे, उनके स्वास्थ्य को लेकर पिछले 15 दिन से मैं परिवारजन और डॉक्टर शिव सरीन के संपर्क में था. ईश्वर से प्रार्थना है शोकाकुल परिजनों को इस बेहद कठिन समय में सम्बल दें एवं दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करें."

गोविंद सिंह डोटासरा ने जताया शोक
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने कांग्रेस विधायक गजेंद्र सिंह शक्तावत के निधन पर दुख जताया है. डोटासरा ने कहा है कि कांग्रेस (Congress) पार्टी ने अपना एक युवा नेता खो दिया. परिजनों को यह आघात सहन करने की शक्ति ईश्वर प्रदान करे. 

सचिन पायलट कैंप को बड़ा झटका
कांग्रेस के सियासी घमासान के दौरान शक्तावत सचिन पायलट कैंप के साथ थे. गजेंद्र सिंह शक्तावत के निधन को पायलट कैंप के लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है. सचिन पायलट ने मीडिया से बातचीत में कहा कि कांग्रेस पार्टी के साथ-साथ उनके लिए भी यह व्यक्तिगत क्षति है. उनके निधन के बाद मेवाड़ की राजनीति में कांग्रेस ने एक मजबूत नेता को दिया है.

दरअसल, सितंबर 2020 महीने से अब तक राजस्थान के 4 विधायकों का निधन हो चुका है. इनमें कैलाश त्रिवेदी, मास्टर भंवर लाल मेघवाल, किरण महेश्वरी और अब गजेंद्र सिंह शक्तावत का भी निधन हो गया. ऐसे में राजस्थान विधानसभा में अब सदस्यों की संख्या घटकर 196 रह गई है. जबकि, कांग्रेस के पास कुल विधायकों की संख्या 104 रह गई है. परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने भी आज दिल्ली में शक्तावत के परिजनों से मुलाकात की. कल उदयपुर में ही उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा.