लॉकडाउन के बीच बड़ी राहत, 63 लाख पेंशनधारियों के खातों में पहुंची राशि

 कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए राज्य सरकार दिन-रात कोशिश कर रही है. 

लॉकडाउन के बीच बड़ी राहत, 63 लाख पेंशनधारियों के खातों में पहुंची राशि
प्रतीकात्मक तस्वीर

जयपुर: कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण को रोकने के लिए राज्य सरकार दिन-रात कोशिश कर रही है. ऐसे में हम और आप भी घर बैठकर इस कोशिश को सफल बनाएं. ऐसे में राज्य सरकार ने अब तक 63 लाख पेंशन धारियों के खाते में पेंशन की राशि पहुंचा दी है. 

पेंशन धारी अपने घर बैठ कर ही सुरक्षित रहे. उन्हें बाहर निकलने की बिल्कुल भी आवश्यकता नहीं है. क्योंकि राज्य सरकार समय से पहले ही पेंशन धारियों के खाते में पेंशन पहुंचाने का काम कर रही है. 

राजस्थान में 78 लाख पेंशनधारी हैं, जिस पर बुजुर्ग दिव्यांगजन और विधवा महिलाओं को हर महीने पेंशन मिलती है. ऐसे में उन्हें इस बात की चिंता करने की बिल्कुल भी आवश्यकता नहीं है कि उनकी समय पर पेंशन आएगी या नहीं बल्कि राज्य सरकार इस मुश्किल घड़ी में सभी पेंशन धारियों के खाते में समय से पेंशन पहुंचा रही है. बाकी पेंशन धारियों के खाते में भी चंद दिनों के अंदर राशि पहुंच जाएगी. 

ये भी पढ़ें: राजस्थान में कोरोना मरीजों का आंकड़ा पहुंचा 69, ईरान से लाये गए भारतीयों में 7 पॉजिटिव

सामाजिक न्याय अधिकारिता विभाग लगातार यही प्रयास कर रहा है कि जल्द से जल्द सभी पेंशन धारियों के खाते में पैसे पहुंचे. सामाजिक न्याय अधिकारिता मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल ने भी राजस्थान के तमाम लोगों से यही अपील की है कि वे अपने घर में बैठकर ही वक्त गुजारे.

आपको बता दें कि सोमवार को राजस्थान में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 69 पहुंच गया है. जयपुर के रामगंज में दो पॉजिटिव केस मिले हैं. रामगंज में पहले से पॉजिटिव मिले हनीफ की मां और बेटा कोरोना पॉजिटिव मिले हैं. वहीं, भीलवाड़ा में भी एक और पॉजिटिव सामने आया है. बांगड हॉस्पिटल की ओपीडी में एक व्यक्ति पॉजिटिव मिला है. इसके अलावा ईरान से भारत लाए गए लोगों में से आज कुल 7 पॉजिटिव मिले हैं. 277 भारतीय ईरान से 25 मार्च को जोधपुर लाये गए थे.