BJP लगातार Congress पर आक्रामक, अब UDH मंत्री शांति धारीवाल ने किया पलटवार

नगर निगम चुनाव (Local Body Election) में कांग्रेस और बीजेपी के बीच टक्कर है. ऐसे में बीजेपी लगातार कांग्रेस पर आक्रामक हो रही थी. 

BJP लगातार Congress पर आक्रामक, अब UDH मंत्री शांति धारीवाल ने किया पलटवार
फाइल फोटो

हिमांशु मित्तल, कोटा: नगर निगम चुनाव (Local Body Election) में कांग्रेस (Congress) और बीजेपी (BJP) के बीच टक्कर है. ऐसे में बीजेपी लगातार कांग्रेस पर आक्रामक हो रही थी. साथ ही ब्लैक पेपर भी कांग्रेस के कार्यों को लेकर जारी किया था. इसी का जवाब देने के लिए यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल ने मीडिया से बातचीत की. 

यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि उन्होंने जनता की राय के बाद ही कोटा में दो नगर निगम किए हैं और वार्डों की संख्या को बढ़ा दिया है. क्योंकि पहले आम जनता कहती थी कि उन्हें छोटी-छोटी समस्याओं के लिए पार्षद के पास जाना पड़ता है, लेकिन पार्षद मिलता ही नहीं है. कभी दूसरी कॉलोनी या अन्य कार्य में व्यस्त होने के बाद कहता है. समस्याएं कई दिनों तक हल नहीं होती. इसलिए छोटे वार्ड बनाए गए हैं, ताकि स्थानीय लोग नजदीक में ही रहने वाले अपने पार्षद के पास जाकर समस्याओं को सुलझा सकें.

कोटा शहर की बिजली व्यवस्था को संभाल रही कोटा इलेक्ट्रिसिटी डिस्ट्रीब्यूशन लिमिटेड को कोटा से भगा देने के वादे पर एक बार फिर मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के शासन में कम्पनी केईडीएल को लाया गया था और हमने जनता से वादा किया था कि केईडीएल को कोटा से रवाना करेंगे. इस मुद्दे पर आज भी कायम है और वादा खिलाफी जनता से नहीं करेंगे. इस केईडीएल मीटर में रेटिंग नहीं आने पर भी लोगों से बिल वसूल रही है, इसके खिलाफ उन्होंने एफआईआर दर्ज करवाई थी, जिसकी जांच भी पुलिस ने कर दी है. 

साथ ही कुछ दिनों में चालान पेश हो जाएगा. इस चालान के बाद कोर्ट से आर्डर लेकर ही इस कंपनी को कोटा से रवाना करेंगे, क्योंकि 20 साल का एग्रीमेंट बीजेपी के शासन में राज्य सरकार ने बिजली कंपनी केईडीएल के साथ किया था.

ये भी पढ़ें: राजस्थान के खिलाड़ियों के वारे-न्यारे, सीएम गहलोत ने दी बड़ी सौगात