Udaipur में BJP नेता आपस में ही भिड़े, जमकर एक दूसरे को दी गालियां

उदयपुर (Udaipur News) में कांग्रेस की नीतियों को कोसने एक मंच पर पहुंचे बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा के नेता आपस में ही भिड़ गए.

Udaipur में BJP नेता आपस में ही भिड़े, जमकर एक दूसरे को दी गालियां
मौके पर मौजूद नेताओं और कार्यकर्ताओं को बीच-बचाव कर मामला शांत कराना पड़ा.

Udaipur : राजस्थान के उदयपुर (Udaipur News) में कांग्रेस की नीतियों को कोसने एक मंच पर पहुंचे बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा के नेता आपस में ही भिड़ गए. नौबत गाली गलौच तक जा पहुंची, वो भी प्रदेश बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा (BJP Minority Front) के अध्यक्ष के सामने. मंच पर जिस वक्त ये भगदड़ और हुड़दंग हुआ, उस वक्त खुदबीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चे के प्रदेशाध्यक्ष एम सादिक खान (M Sadiq Khan) भी वहीं मौजूद थे.  ना केवल बीजेपी पदाधिकारी आपस में एक दूसरे से भिड़ गए, बल्कि एक दूसरे को जमकर गालियां भी दी. एम सादिक खान ने अपने नेता और पार्टी पदाधिकारियों को सार्वजनिक स्थल पर की गई इस हरकत के लिए जमकर लताड़ा और कड़ी आलोचना की.

यह भी पढ़ें- BJP विधायक Saraf ने हाथ जोड़कर रखी फीस वसूली की बात, बोले- पैरेंट्स को राहत दिलाओ

कैसे शुरू हुआ विवाद
लेकसिटी उदयपुर में प्रदेश की कांग्रेस सरकार (Congress Government) की नीतियों के खिलाफ बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा के नेता एक जुट हुए थे.  मोर्चे के नेता कांग्रेस सरकार की नीति को अल्पसंख्यक विरोधी बताकर प्रदर्शन करने पहुंचे थे, लेकिन कांग्रेस को कोसने पहुंचे नेता एक दूसरे को ही जमकर कोसने लगे और गाली-गलौच करने लगे. इस दौरान बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा (BJP Minority Front) कुछ पदाधिकारियों ने जमकर अपशब्दों (Abusive words) का प्रयोग किया. पूरा विवाद उस वक्त खड़ा हुआ जब मंच पर कुछ नेताओं को बोलने का मौका नहीं मिल रहा था. ज्ञापन देने गए प्रतिनिधिमंडल में भी उनको शामिल नहीं किये जाने से मामला तूल पकड़ गया. अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष एम सादिक खान के सामने ही राज्य और जिला पदाधिकारियों में कहासुनी हो गई. मौके पर मौजूद नेताओं और कार्यकर्ताओं को बीच-बचाव कर मामला शांत कराना पड़ा.

'खुद को पद से मुक्त समझें'
बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष एम सादिक खान ने उदयपुर में पार्टी नेताओं और पदाधिकारियों के इस हरकत के लिए कड़ी नाराजगी जताई. एम सादिक खान ने अपने पदाधिकारियों को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि यदि वे एक दूसरे का सम्मान नहीं कर सकते हैं तो वह खुद को पद मुक्त समझ लें. एम सादिक खान ने कहा कि वे यहां ताली बजाने या भाई साहब-भाई साहब करने नहीं आए हैं.

'कांग्रेस सरकार की नीतियों अल्पसंख्यक विरोधी'-सादिक
बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार की नीतियों को अल्पसंख्यक विरोधी बताया. उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) पर अल्पसंख्यक वर्ग की योजनाओं पर रोक लगाने और मुद्दों से भटकाने का आरोप लगाया. प्रदर्शन के दौरान अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति योजना में छात्र सीमा को हटा देने और अल्पसंख्यक छात्रों को कोचिंग के लिए छात्रवृत्ति देने वाली योजनाओं का सही रूप से क्रियान्वयन नहीं करने जैसे भी मुद्दे उठाए गये. प्रदर्शन के दौरान बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा के अलावा शहर बीजेपी और महिला मोर्चा के वरिष्ठ पदाधिकारी भी मौजूद थे.
COPY-SUJIT KUMAR NIRANJAN

यह भी पढ़ें- Jaipur News: Rajasthan Assembly में ACB की तारीफ, Kataria बोले- मिलना चाहिए सम्मान