दिल्ली हिंसा के लिए CM अशोक गहलोत जिम्मेदार: बीजेपी विधायक

दिलावर ने कहा कि जयपुर में भी अशोक गहलोत ने जिस तरीके से शहीद स्मारक पर जाकर प्रदर्शनकारियों का समर्थन किया है, उससे देश में हिंसा को बढ़ावा मिल रहा है. 

दिल्ली हिंसा के लिए CM अशोक गहलोत जिम्मेदार: बीजेपी विधायक
विधानसभा के मुख्य सचेतक महेश जोशी ने मदन दिलावर को एक शेर के जरिए जवाब दिया.

जयपुर: बीजेपी विधायक मदन दिलावर ने दिल्ली में हुई हिंसा के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok gehlot) को जिम्मेदार ठहराया है. मदन दिलावर ने कहा अशोक गहलोत ने सबसे पहले दिल्ली में बयान दिया था कि कांग्रेस शासित राज्यों में एनआरसी और सीए को लागू नहीं किया जाएगा, इससे आतंकवादी गद्दार और देशद्रोही लोगों का हौसला बढ़ा और वे हिंसा कर रहे हैं.

इतना ही नहीं, दिलावर ने कहा कि जयपुर में भी अशोक गहलोत ने जिस तरीके से शहीद स्मारक पर जाकर प्रदर्शनकारियों का समर्थन किया है, उससे देश में हिंसा को बढ़ावा मिल रहा है. विधानसभा के मुख्य सचेतक महेश जोशी ने मदन दिलावर को एक शेर के जरिए जवाब दिया.

महेश जोशी ने कहा अब "बूत हमको काफिर कहें अल्लाह की मर्जी है." महेश जोशी ने कहा कि देश में हिंसा फैलाने और नफरत की राजनीति करने वाले हम पर आरोप लगा रहे हैं.

दरअसल, सोमवार को दिल्ली में सीएए के विरोध में हुई हिंसा में रामगढ़ शेखावाटी के तिहावली गांव के निवासी और दिल्ली पुलिस में हेड कॉन्स्टेबल (42 वर्ष) रतनलाल शहीद हो गए थे. 

रतनलाल के शहीद होने के बाद पैतृक गांव तिहावली में शोक की लहर है. सोमवार को दिल्ली में हुए उपद्रव के दौरान ड्यूटी के समय शहीद हुए रतनलाल का आज सीकर में उनके पैतृक घर पर अंतिम विदाई दी गई.

शहीद रतनलाल के घर पर शोक का माहौल है. ग्रामीण और परिवार के लोग विभिन्न मांगों को लेकर गांव के मुख्य चौक के पास धरने पर बैठे रहे. ग्रामीणों और परिवार के लोगों की मांग थी कि हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल को पूर्ण रूप से शहीद का दर्जा दिया जाए. इसके बाद केंद्र सरकार ने रतनलाल को शहीद की दर्जा दिया है.