close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अयोध्या मसले पर बयानबाजी से बचे नेता ,बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष की हिदायत

खुद पीएम मोदी ने सभी लोगों से अपील की है. कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान होना चाहिए.

अयोध्या मसले पर बयानबाजी से बचे नेता ,बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष की हिदायत
फाइल फोटो

जयपुर, अयोध्या(ayodhya) मामले पर फैसला जो भी आए. देश और प्रदेश में शांति व्यवस्था पहली प्राथमिकता होगी ये कहना है बीजेपी का . प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया(Satish Punia) ने साफ कर दिया है कि पार्टी अपने नेतृत्व के निर्देश और संविधान(Constitution) से बंधी हुई है.पार्टी के सभी नेताओं, कार्यकर्ताओं और संगठन से जुड़े लोगों को इस बाबत निर्देश दे दिए गए हैं कि कोर्ट के फैसले पर किसी तरह की कोई प्रतिक्रिया नहीं दी जाएगी. ना तो इस मामले में मीडिया में कोई बयान देगा और ना ही किसी भी तरह की कोई प्रतिक्रिया देगा. सतीश पूनिया ने कहा कि समाज और देश में शांति बनाए रखना सबकी जिम्मेदारी है. उन्होंने बीजेपी(BJP) के कार्यकर्ताओं को सख्त हिदायत देते हुए कहा कि अगर किसी ने इस दायरे को तोड़ने की कोशिश की तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.
आपको बता दें कि खुद पीएम मोदी ने सभी लोगों से अपील की है. कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान होना चाहिए.  पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने मंत्रियों को सलाह देते हुए कहा कि वे शांति और सौहार्द्र का माहौल बनाए रखने में मदद करें. सुप्रीम कोर्ट जो भी फैसला दे, उसका सम्मान हो. फैसला किसी के भी पक्ष में आए, न जश्न मने और न गम हो. न्यायालय जो भी फैसला दे, उसका सम्मान हो. पीएम मोदी ने ये सलाह कैबिनेट बैठक के दौरान दी. अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला 17 नवंबर तक आएगा.