राजस्थान में दुल्हन की किडनैपिंग मामले को लेकर राजपूतों ने किया प्रदर्शन

विधायक गुडा ने आरोपियों की गिरफ्तारी में हो रही देरी का विरोध करते हुए अनेक प्रदर्शनकारियों के सामने पुलिस अधीक्षक के कार्यालय पर अपने ऊपर मिट्टी का तेल डालकर खुद को आग के हवाले करने की कोशिश की.

राजस्थान में दुल्हन की किडनैपिंग मामले को लेकर राजपूतों ने किया प्रदर्शन
पुलिस ने मामला दर्ज कर अपहरण की जांच शुरू कर दी है

जयपुर: राजस्थान में हथियारबंद लोगों द्वारा बुधवार को दुल्हन को अगवा करने के विरोध में गुरुवार को राजपूत समुदाय के लोगों ने सीकर के जिला कलेक्टर के आवास के सामने धरना दिया.

उदयपुरवाटी से बहुजन समाज पार्टी (बसपा) विधायक राजेंद्र गुडा के आह्वान पर हजारों लोग जिला कलेक्टर के आवास के सामने इकट्ठा हो गए.

सीकर के ढोढ थाने के पुलिस अधिकारी बंशीधर ने कहा, 'मामले चार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है और पुलिस की टीमें मुख्य आरोपी अंकित सेवाडा और दुल्हन की तलाश कर रही हैं. सेवाडा दुल्हन का पड़ोसी है'.

उन्होंने बताया कि पुलिस ने आरोपी का पता लगाने के लिए अपनी टीमें जयपुर और गाजियाबाद भेजी हैं.

इससे पहले विधायक गुडा ने आरोपियों की गिरफ्तारी में हो रही देरी का विरोध करते हुए अनेक प्रदर्शनकारियों के सामने पुलिस अधीक्षक के कार्यालय पर अपने ऊपर मिट्टी का तेल डालकर खुद को आग के हवाले करने की कोशिश की. हालांकि प्रदर्शनकारियों ने उनको रोक लिया. 

दो बहनें सोनू कंवर और हंसा कुनार शादी के बाद अपने ससुराल जा रही थीं, तभी उनको हथियार से लैसे लोगों ने रोक लिया और उनके वाहन को घेर लिया. उन्होंने उनकी कार की खिड़की के शीशे तोड़कर पिस्तौल के बल पर हंसा को सीकर जिले के मोरडुंगा गांव के पास अगवा कर लिया.

पुलिस ने मामला दर्ज कर अपहरण की जांच शुरू कर दी है, लेकिन घटना के 40 घंटे बीत जाने के बावजूद दुल्हन के बारे में पता नहीं चलने के कारण राजपूत समुदाय गुस्से में है.