Coronavirus: गाड़िया लोहार को लेकर बूंदी जिला प्रशासन ने दिया अहम आदेश, कहा...

बूंदी जिला प्रशासन ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान दिहाड़ी मजदूर, गाड़िया लुहार, व अन्य अभावग्रस्त लोग भूखे नहीं रहे, यह हमें सुनिश्चित करना है.

Coronavirus: गाड़िया लोहार को लेकर बूंदी जिला प्रशासन ने दिया अहम आदेश, कहा...
बूंदी में अब तक कोई कोराना पॉजिटिव केस नहीं पाया गया है.

संदीप व्यास/बूंदी: कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए  जिला कलक्टर अंतर सिंह नेहरा ने विभिन्न संगठनों की बैठक ली और आमजन को संक्रमण बचाने में सहयोग का आह्वान किया. 

बैठक में जिला कलेक्टर ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान दिहाड़ी मजदूर, गाड़िया लुहार, व अन्य अभावग्रस्त लोग भूखे नहीं रहे, यह हमें सुनिश्चित करना है. स्वयं सेवी संस्थाएं, भामाशाह इस कार्य में सहयोग के लिए आगे आएं. बूंदी शहरवासी हर मोर्चे पर प्रशासन के साथ खडे नजर आते हैं. इस चुनौती का सामना करने के लिए आप सब आगे आएं, ताकि हम बूंदी में हर किसी के लिए भोजन सुलभ करा सकें.

 जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि कोरोना वायरस के संदिग्ध लोगों को निर्देशानुसार आइसोलेशन की व्यवस्था में रखा जाए. कहीं से भी किसी प्रकार के संदिग्ध की सूचना प्राप्त हो तो कंट्रोल रूम पर सूचना दी जाए. जिले में सभी हॉस्टल, होटल, सामुदायिक भवन तथा सुविधायुक्त अन्य आवासीय स्थलों को चिन्हित कर तैयार रखा जाए ताकि आवश्यकता अनुसार उनका उपयोग किया जा सके.

बैठक में जिला पुलिस अधीक्षक शिवराज सिंह मीणा ने निर्देश दिए कि निचले स्तर से आंगनबाड़ी, आशा सहयोगिनी के माध्यम से सूचनाएं त्वरित तौर पर कंट्रोल रूम पर दी जाएं. अन्य जिलों से आने वाले मार्गों की सीमा पर आवाजाही में पूरी छानबीन के साथ ही राहगीरों को जाने दिया जाए.

गौरतलब है की बूंदी  में अब तक कोई कोराना पॉजिटिव केस नहीं पाया गया है. अब तक 57 लोगों को होम आईसोलेशन में रखा गया है. वे 14 दिन या इससे कम की अवधि सुरिक्षत बिता चुके हैं, कोई संक्रमण नहीं पाया गया है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेशवासी इस खतरे को लेकर सजग हैं एवं आगे बढ़कर सरकार की गाइडलाइन्स का पालन कर रहे हैं, लेकिन आपात स्थिति के लिए भी हमें तैयार रहना होगा. आप सबके सहयोग से हम इस संकट से सफलतापूर्वक बाहर निकल पाएंगे. 

सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण को ब्रेक करने के लिए राजस्थान में लॉकडाउन कर दिया है. दूसरी तरफ जयपुर जिला प्रशासन ने भी अपने स्तर भी तैयारी कर रखी है. जिले में लगाई गई धारा 144 के तहत 31 मार्च तक किसी भी जगह 5 से अधिक व्यक्ति एकत्र नहीं हो सकेंगे.