close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर: मुहाना मंडी में बिना बिजली बिल के काटा जा रहा कनेक्शन, डिस्कॉम के खिलाफ हुई शिकायत

 मंडी कारोबारियों का कहना हैं कि जयपुर डिस्कॉम के अधिकारियों ने मंडी कारोबारियों को बिल पहुंचाए ही नहीं, ऐसे में उन्हें बिल राशि की जानकारी नहीं है.

जयपुर: मुहाना मंडी में बिना बिजली बिल के काटा जा रहा कनेक्शन, डिस्कॉम के खिलाफ हुई शिकायत
जयपुर डिस्कॉम इस समय उपभोक्ताओं के निशाने पर है. (फाइल फोटो)

जयपुर: एशिया की सबसे बड़ी फल सब्जी मंडी मुहाना में व्यापार कर रहे स्थानीय व्यापारी सरकारी सिस्टम से काफी दुखी हैं. अभी तक दुकानों के आवंटन में देरी के कारण परेशानी झेल रहे स्थानीय व्यापारियों को कई और समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है. 

बताया जा रहा है कि मंडी कारोबारियों को बिजली, साफ सफाई, सड़क और पेयजल समस्याओं से दो चार होना पड़ रहा हैं. हालिया समस्या बिजली कनेक्शन काटने की हैं. बिजली विभाग ने बिल जमा नहीं करवाने पर कारोबारियों की बिजली गुल करने की तैयारी कर ली हैं. वहीं, कारेाबारियों का कहना हैं कि हमें बिजली के बिल मिले ही नहीं तो जमा कैसे करवाए. 

बताया जा रहा है कि बिजली महकमे के अधिकारी मुहाना मंडी के कारोबारियों के बिजली कनेक्शन काटने जा रहे हैं. कारोबारियों ने अपने बिजली के बिल नहीं जमा करवाए हैँ. ऐसे में उनके बिजली कनेक्शन काटने की तैयारी में बिजली विभाग है.

जबकि मंडी कारोबारियों का कहना हैं कि जयपुर डिस्कॉम के अधिकारियों ने मंडी कारोबारियों को बिल पहुंचाए ही नहीं, ऐसे में उन्हें बिल राशि की जानकारी नहीं है. इसके बावजूद बिल जमा नहीं करने की बात कहकर मंडी कारोबारियों के बिजली कनेक्शन काटे जा रहे हैं. परेशान कारोबारियों ने ऊर्जा मंत्री से मिलकर अपनी बात रखी हैँ. 

इस दौरान कारोबारियों ने कहा है कि बिजली बिल जारी किए जाए, ताकि समय पर बिजली बिल की राशि जमा करवाई जा सके. कारोबारियों का यह भी कहना है कि बड़ी संख्या में ऐसे फल हैं जिन्हें डीप फ्रीजर में रखना पड़ता हैँ. अगर बिजली कनेक्शन कट गया तो लाखों रुपए के फल खराब हो जाएगें. मंडी कारोबारियों ने ऊर्जा मंत्री बिजली विभाग के लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ एक्शन लेने की मांग की है.

जयपुर डिस्कॉम इस समय उपभोक्ताओं के निशाने पर है. जहां विभाग के अधिकारी गर्मी में पॉवर सप्लाई मैनेजमेंट बेहतर रखने में असफल रहे. अब मुहाना मंडी में कनेक्शन काटने की बात को लेकर राजनीति गर्मा गई हैं. डिस्कॉम प्रबंधन ने अपने लापरवाह रवैये में अगर सुधार नहीं किया तो आने वाले दिनों में विभागीय स्तर पर बड़े बदलाव संभव हैँ.