close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मोहनगढ़ को हरा-भरा क्षेत्र बना कर पैदल वाहिनी ने ग्राम पंचायत के सुपुर्द की जमीन

पनोधर राय मंदिर क्षेत्र में वर्ष 2015-16 की 150 हैक्टेयर जमीन पर 1,20,000 पौधों का रोपण करने के बाद शुक्रवार को बटालियन द्वारा जमीन का हस्तांतरण ग्राम पंचायत मोहनगढ़ को किया गया. 

मोहनगढ़ को हरा-भरा क्षेत्र बना कर पैदल वाहिनी ने ग्राम पंचायत के सुपुर्द की जमीन
मोहनगढ़ क्षेत्र में अब तक 54 लाख पौधों का रोपण किया जा चुका है.

मोहनगढ़: जैसलमेर के मोहनगढ़ क्षेत्र को हरा भरा बनाने के लिए 128वीं पैदल वाहिनी पर्यावरण राज रिफ साल1997 से कार्यरत है. मोहनगढ़ क्षेत्र में बटालियन द्वारा लाखों पौधे लगाकर हरा भरा बनाया गया. इसी के तहत पनोधर राय मंदिर क्षेत्र में वर्ष 2015-16 की 150 हैक्टेयर जमीन पर 1,20,000 पौधों का रोपण करने के बाद शुक्रवार को बटालियन द्वारा पौधारोपण की गई जमीन का हस्तांतरण ग्राम पंचायत मोहनगढ़ को किया गया. 

पौधारोपण की गई जमीन का हस्तांतरण कमान अधिकारी कर्नल विक्रम सिंह राठौड़, बीएल यादय डीएफओ आईजीएनपी स्टेज द्वितीय, राज बिहारी मिततल एसीएफ, हाबू लाल मीणा तहसीलदार उपनिवेषन द्वारा मोहनगढ़ सरपंच दोस्त अली सांवरा को किया गया. जमीन हस्तांतरण का प्रमाण सुपुर्द किया गया. इस दौरान बटालियन के कमान अधिकारी कर्नल विक्रम सिंह राठौड़ ने बताया कि 128वीं पैदल वाहिनी ने वर्ष 1983 से बीकानेर से कार्य प्रारम्भ किया था. 

वर्ष 1996 तक बीकानेर में 11000 हैक्टेयर जमीन पर एक करोड़ दस लाख करोड़ पौधों का रोपण करने के बाद वर्ष 1997 में बटालियन मोहनगढ़ क्षेत्र में आई. मोहनगढ़ क्षेत्र में अब तक 7300 हैक्टेयर जमीन पर 54 लाख पौधों का रोपण किया जा चुका है. जिसकी जीवितता 85 से 90 प्रतिषत तक रही है. इसी प्रकार चार साल पूर्व पनोधर राय मंदिर क्षेत्र में वर्ष 2015-16 में ग्राम पंचायत मोहनगढ़ से 150 हैक्टेयर जमीन पौधारोपण के लिए ली गई थी. जिस पर 1,20,000 पौधों का रोपण कर ग्राम पंचायत को सुपुर्द किया गया। जिसकी जीवितता 90 प्रतिशत तक है.

पौधारोपण की गई जमीन का हस्तांतरण करने के दौरान बटालियन के कर्नल यष राठौड़, लेफ्टिनेंट कर्नल विक्रम सिंह शेखावत, मेजर विमल, सूबेदार मेजर विक्रम सिंह शेखावत, सूबेदार शम्भू सिंह, भानू प्रताप, श्योराम, सूबेदार क्लर्क सदाषिवन के., रेंजर विरेन्द्र सिंह, फोरेस्टर अमित, तनेराव सिंह सांखला, पूनम सिंह सांखला, शंकर लाल जांगिड़ सहित वन विभाग की टीम व ईटीएम के जवान मौजूद रहे.