जैसलमेर: राजकीय जवाहर चिकित्सालय में कैंसर केयर यूनिट शुरू, मरीजों को मिलेगी राहत

अब जिला मुख्यालय में कैंसर जैसे असाध्य रोग के इलाज के लिये सरकारी प्रयासों पर बेहतरीन सुविधाएं मिलने जा रही है.

जैसलमेर: राजकीय जवाहर चिकित्सालय में कैंसर केयर यूनिट शुरू, मरीजों को मिलेगी राहत
नवीनतम तकनीकों का इस्तेमाल कर इलाज हो रहा है. (प्रतीकात्मक फोटो)

जैसलमेर: भारत पाकिस्तान सीमा पर स्थित रेगिस्तानी जिले जैसलमेर को विकास की दृष्टि से पिछड़ा हुआ माना जाता है. यहां गंभीर बीमारियों के इलाज के लिए जरुरी चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध नहीं हैं. जिस कारण मरीजों को बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ता है.

लेकिन अब जिले के कैंसर की बीमारी से पीड़ित मरीजों के लिए एक अच्छी खबर मिल रही है. अब जिला मुख्यालय में कैंसर जैसे असाध्य रोग के इलाज के लिये सरकारी प्रयासों पर बेहतरीन सुविधाएं मिलने जा रही है.

100 से ज्यादा मरीजों की हो चुकी मौत
गौरतलब है कि पिछले एक दशकों में जैसलमेर जिले में कैंसर रोग ने तेजी से पांव पसारे हैं. जिसमें 1 हजार से ज्यादा कैंसर के रोगी सामने आये हैं. इस दौरान इलाज की बेहतर सुविधा नहीं मिलने के कारण 100 से अधिक मरीजों को जान से हाथ भी धोना पडा है. 

न्यूनतम खर्च पर उपलब्ध सुविधाएं
प्रदेश सरकार के प्रयास से जैसलमेर जिले के कैंसर रोगियों के उपचार के लिये अब जिला मुख्यायल स्थित राजकीय जवाहिर चिकित्सालय में कैंसर केयर युनिट की स्थापना की गई है. जिसमें मरीजों की जांच से लेकर उनके बेहतर इलाज की सुविधाएं बिल्कुल न्यूनतम खर्च पर उपलब्ध हो रही है.

शिविरों का होता है आयोजन
इसके साथ ही मरीजों के बेहतर इलाज के साथ यहां पर समय विशेष शिविरों का भी आयोजन किया जाता है. जिसमें देश के प्रतिष्ठित कैंसर विशेषज्ञ यहां आकर कैंसर मरीजों का इलाज करते हैं और उन्हें बेहतर सलाह भी देते हैं. 

लाइव टीवी देखें-:

जाना पड़ता था जोधपुर या गुजरात
पूर्व में कैंसर बीमारी के इलाज के लिये मरीजों को जोधपुर या गुजरात के बडे चिकित्सालयों में इलाज के लिये जाना पडता था जिसमें मरीज को परेशानी के साथ साथ परिजनों को भी आर्थिक कष्ट झेलना पड़ता था. 

मरीजों की उम्मीदें बंधी
जैसलमेर जिला मुख्यालय पर कैंसर बीमारी के उपचार की बेहतर सेवा आरम्भ होने के बाद यहां के कैंसर रोगियों में सकारात्मक उर्जा का संचार हुआ है और उन्हें कम खर्च में इस बीमारी के इलाज का लाभ मिलना भी आरम्भ हो गया है. 

मिला जीवनदान
मरीजों की मानें तो सरकार द्वारा कैंसर केयर युनिट की स्थापना किया जाना उनके लिये किसी जीवनदान से कम नही है. यहां इलाज करवा रहे मरीजों का कहना है कि जैसलमेर के कैंसर केयर यूनिट में निजी चिकित्सालय के जैसा ही माहौल है. इस दौरान प्रशिक्षित चिकित्सक व नर्सिंग स्टाफ प्रतिदिन रोगियों के उपचार की नवीनतम तकनीकों का इस्तेमाल कर यहां इलाज कर रहे है.