ATM पर नकदी का संकट, 21 दिन के लॉक डाउन के बाद एकाएक बढ़ी मांग

21 दिन की लॉकआउट की घोषणा के बाद लोगों में नगदी की मांग बढ़ गई है. 

ATM पर नकदी का संकट, 21 दिन के लॉक डाउन के बाद एकाएक बढ़ी मांग
प्रतिकात्मक तस्वीर

जयपुर: 21 दिन की लॉकआउट की घोषणा के बाद लोगों में नगदी की मांग बढ़ गई है. जयपुर सहित प्रदेश के अधिकतर आबादी के क्षेत्रों में एटीएम पर लोगों की आवाजाही रही. हालांकि, मांग के चलते अधिकतर एटीएम खाली रहे. 

कई जगह से निराश लौट रहे उपभोक्ताओं ने बैंक प्रबंधन में शिकायत की है. भारतीय रिजर्व बैंक और स्टेट लेवल बैंकर्स कमेटी ने एटीएम में नकदी रहने के निर्देश दिए थे. इसके बावजूद निजी और सरकारी एटीएम सुविधा प्रदाता एजेंसी है ध्यान नहीं दे रही हैं.

आपको बता दें कि राजस्थान (Rajasthan) में आज चार नए कोरोना वायरस (Coronavirus) के पॉजिटिव केस सामने आए हैं. इनमें से तीन केस भीलवाड़ा जिले के बताए गए हैं, जो कि मेडिकल स्टाफ से जुड़े हुए हैं. वहीं एक केस जोधपुर का है. 

ये भी पढ़ें: राजस्थान में 12 घंटे में सामने आए 4 नए कोरोना पॉजिटिव, अब तक कुल हुए 36

इन चार नए मरीजों के सामने आने के बाद राजस्थान में कोरोना वायरस के कुल मरीजों की संख्या 36 हो गई है. इनमें से एक की मौत हो चुकी है, जो कि विदेशी नागरिक था. वो राजस्थान में कोरोना का सबसे पहला पॉजिटिव केस था.

बता दें कि पूरे राजस्थान में सबसे अधिक कोरोना पॉजिटिव केस भीलवाड़ा से आए हैं. ACS मेडिकल रोहित कुमार सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि राजस्थान में 36 केस कोरोना पॉजिटिव निकले जबकि 1 हजार 548 संदिग्धों की रिपोर्ट निगेटिव निकली. उन्होंने बताया कि जोधपुर से जो युवती कोरोना पॉजिटिव पाई गई है, उसने हाल ही में ट्रेन से सफर किया था.