CM गहलोत के बिंझबायला को कृषि मंडी बनाने पर समारोह, विधायक का हुआ सम्मान

बींझबायला के व्यापार मंडल में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें व्यापार मंडल के पदाधिकारियों और व्यापारियों ने विधायक का साफा पहनाकर जोरदार स्वागत किया.

CM गहलोत के बिंझबायला को कृषि मंडी बनाने पर समारोह, विधायक का हुआ सम्मान
इस दौरान बड़ी संख्या में व्यापारी और नागरिक मौजूद रहे.

कुलदीप, श्रीगंगानगर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Asok Gehlot) द्वारा बींझबायला को कृषि उपज मंडी समिति बनाने की घोषणा करने पर आज विधायक गुरमीत कुन्नर का जोरदार स्वागत किया गया.

बींझबायला के व्यापार मंडल में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें व्यापार मंडल के पदाधिकारियों और व्यापारियों ने विधायक का साफा पहनाकर जोरदार स्वागत किया.

इस मौके पर विधायक गुरमीत कुन्नर ने संबोधित करते हुए कहा कि बींझबायला को कृषि उपज मंडी समिति बनने पर यहां व्यापार के नए अवसर खुलेंगे और इलाके का विकास होगा. उन्होंने कहा कि बजट से पहले उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से बींझबायला को मंडी समिति बनाने का आग्रह किया था, जिसे मुख्यमंत्री ने स्वीकार कर लिया और मंडी समिति बनाने की घोषणा की. इस दौरान बड़ी संख्या में व्यापारी और नागरिक मौजूद रहे.

बता दें कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की प्रदेश में नई मंडियों की घोषणा का राजस्थान खाद्य पदार्थ व्यापार संघ ने स्वागत किया है. संघ के अध्यक्ष बाबुलाल गुप्ता का कहना है कि नई मंडिया बनने से किसान अपने निकट के क्षेत्र में फसल बेच पाएगा. इससे उसके परिवहन खर्चों में कटौती होगी साथ ही व्यापारी, किसान, पल्लेदार सहित सभी को लाभ होगा. 

सीएम ने बजट में की गई घोषणाओं के अलावा जवाब पेश करते हुए भी सीकरी-भरतपुर, टिब्बी-हनुमानगढ़, सुल्तानपुर-कोटा, खतौली-कोटा, मांगरोल-बारां, कवाई-बारां, कापरेन-बूंदी, पिलानी-झुंझुनूं एवं लालगढ़ जाटान-श्रीगंगानगर में स्वतंत्र मंडी बनाए जाने की घोषणा की हैं. 

53 नई मंडियों के विकसित होने से दस हजार नए रोजगार के संसाधन भी विकसित होंगे. व्यापार संघ ने पुरानी मंडियों में भी सुविधाओं के विस्तार की मांग उठाई हैं.