देश के हालात बद से बदतर, फेल साबित हो रही केंद्र सरकार: टीकाराम जूली

जूली ने कहा कि राहुल गांधी सहित कांग्रेस के कई नेताओं ने पूर्व में कई बार कहा कि बीजेपी की ऐसी नीतियों की वजह से देश गर्त में चला जाएगा, आज वहीं हो रहा है.

देश के हालात बद से बदतर, फेल साबित हो रही केंद्र सरकार: टीकाराम जूली
जूली ने कहा केंद्र सरकार हर तरफ से फेलियर साबित हो रही है.

भरत राज/जयपुर: सचिवालय में गुरुवार को श्रम मंत्री टीकाराम जूली ने विभागीय अधिकारियों की बैठक ली. बैठक में श्रम विभाग सचिव नीरज के पवन सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहें. बैठक में मंत्री टीकाराम जूली (Tikaram Jully) ने कहा कि कोरोना (Corona) काल में सबसे ज्यादा परेशानी का सामना श्रमिक वर्ग को करना पड़ा है.

उन्होंने कहा कि कई कंपनियों ने अपने श्रमिकों को वेतन नहीं दिया, तो कई कंपनियों ने श्रमिकों को हटा दिया. ऐसे में श्रमिकों के सामने परिवार के पालन पोषण का संकट खड़ा हो गया. मंत्री जूली ने कहा कि कंपनियां श्रमिकों की मदद करें. श्रमिकों को उचित वेतन दे और काम पर रखे.

जूली ने कहा कि वर्तमान हालात में कोरोना (Corona) का संकट प्रदेश में हीं नहीं, पूरे विश्व के सामने है. समय अच्छा आएगा तो यही श्रमिक हमारे काम आएंगे, तब इनका वेतन और अधिक बढ़ भी जाएगा. वहीं, मंत्री टीकाराम जूली ने केंद्र सरकार पर तीखा हमला करते हुए कहा कि केंद्र सरकार हर तरफ से फेलियर साबित हो रहीं है. हालात यह है कि देश के हालात बद से बदतर होते जा रहे है. लेकिन केंद्र सरकार को आमजन से कोई मतलब नहीं है.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार के समय देश की जीडीपी (GDP) जहां अधिक रहती थी वहीं, जीडीपी आज माइनस में आ गई है. राहुल गांधी (Rahul Gandhi) सहित कांग्रेस के कई नेताओं ने पूर्व में कई बार कहा कि बीजेपी की ऐसी नीतियों की वजह से देश गर्त में चला जाएगा. आज वहीं हो रहा है, बात रेलवे की करे या हवाई अड्डों की केंद्र सरकार हर क्षेत्र को निजीकरण में बांट रहीं है.

जूली ने कहा कि केंद्र सरकार की तरफ से करीब दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने का दावा किया गया था. लेकिन सच यह है कि किसी भी युवा को कोई रोजगार नहीं मिला. उसके विपरीत जो युवा रोजगार कर रहे थे, उनसे रोजगार और नौकरियां और छीन गई.