राजस्थान: केंद्र ने जारी की स्कूल खोलने की गाइडलाइन, डोटासरा बोले...

अगर राज्य सरकार स्कूल, कॉलेज और शिक्षण संस्थान खोलने का फैसला लेता है तो इसके लिए केंद्र की गाइडलाइन के मुताबिक एसओपी तैयार करनी होगी.

राजस्थान: केंद्र ने जारी की स्कूल खोलने की गाइडलाइन, डोटासरा बोले...
जल्द ही राज्य सरकार की ओर से गाइड लाइन जारी की जाएगी.

जयपुर: केन्द्र सरकार की ओर से अनलॉक-5 (Unlock-5) की गाइडलाइन जारी कर दी गई है और इस गाइडलाइन में शिक्षा के क्षेत्र में बड़ी राहत मिलती हुई नजर आई है. केन्द्र सरकार की ओर से 15 अक्टूबर से स्कूल, कॉलेज और शिक्षक संस्थान खोलने की छूट दी गई है. लेकिन साथ ही इसकी जिम्मेदारी भी राज्य सरकारों को सौंपी है कि वो खोलने या नहीं खोलने का फैसला ले सकती हैं.

अगर राज्य सरकार स्कूल, कॉलेज और शिक्षण संस्थान खोलने का फैसला लेता है तो इसके लिए केंद्र की गाइडलाइन के मुताबिक एसओपी (SOP) तैयार करनी होगी. केंद्र सरकार की ओर से जारी एसओपी में शारीरिक दूरी को ध्यान में रखते हुए सीखने-सीखाने के तरीकों पर फोकस करने को कहा गया है.

केंद्र सरकार की ओर से जारी एसओपी की महत्वपूर्ण बातें:
-स्कूल में हर क्लास के बच्चों के आने-जाने का समय अलग-अलग होगा.
-स्कूल खुलने के 2-3 सप्ताह तक मूल्यांकन नहीं होगा.
-सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए समारोह या इवेंट नहीं होगा.
-इमरजेंसी केयर सपोर्ट और हाइजीन इंस्पेक्शन टीमें बनानी होंगी.
-स्कूल आने से पहले अभिभावकों की लिखित अनुमति जरुरी.
-ऑनलाइन पढ़ाई की व्यवस्था स्कूलों को जारी रखनी होगी.
-स्कूलों पर डॉक्टर्स और नर्स एक कॉल पर उपलब्ध रहने की जिम्मेदारी रहेगी.
-बच्चों की शत-प्रतिशत हाजरी को लेकर छूट दी जाएगी.
-स्कूल एसओपी के बारे में नोटिस देकर अभिभावकों को सूचना देगी.
-स्कूल में स्टाफ के साथ ही बच्चों का मास्क पहनना अनिवार्य होगा.
-कोरोना पीड़ित बच्चों के घर पर पाठ्यक्रम सामग्री पहुंचाएगा स्कूल.
-शिक्षकों और स्टाफ के स्वास्थ्य की रुटिन जांच जरुरी होगी.
-मानसिक स्वास्थ्य के लिए काउंसलर रखने होंगे.
-कमरों के अलावा खुले स्थान पर पढ़ाई से बच्चे ज्यादा सुरक्षित होंगे.
-फैसले से पहले राज्य द्वारा स्कूलों और अभिभावक संगठनों से करनी होगी बात.

दरअसल, केन्द्र की ओर से स्कूलों को खोलने को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी गई है तो वहीं अब स्कूलों को खोलने या नहीं खोलने का फैसला राज्य सरकार को लेना है. केंद्र सरकार की गाइडलाइन पर शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा का कहना है कि '15 अक्टूबर से स्कूल, कॉलेज, शिक्षण संस्थानों को खोलने की अनुमति मिली है. लेकिन अब मुख्यमंत्री के साथ जल्द ही इसको लेकर बैठक की जाएगी. साथ ही केंद्र सरकार की ओर से जारी एसओपी के आधार पर राज्य सरकार अपनी गाइडलाइन जारी करेगी. साथ ही किस तरह से और कितनी क्लास तक के बच्चों को स्कूल बुलाने का फैसला लिया जाता है इसको लेकर जल्द ही राज्य सरकार की ओर से गाइड लाइन जारी की जाएगी.'

हालांकि, 21 सितंबर से कक्षा 9वीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों के गाइडेंस के लिए स्कूल खोले जा चुके हैं तो वहीं शिक्षा मंत्री ने साफ कर दिया है कि प्रदेश में स्कूलों को खोलने का फैसला मुख्यमंत्री स्तर पर लिया जाएगा. साथ ही बच्चों के स्वास्थ्य के ध्यान में रखते हुए स्कूलों को तीन चरणों में भी खोलने का फैसला राजस्थान सरकार की ओर से लिया जा सकता है.