Chomu: सामान्य की सीट पर OBC को Chairman? शुरू हो गया महासंग्राम

राजधानी जयपुर चौमूं नगर पालिका (Chomu Municipality) में चेयरमैन (Chairman) बनने से पहले ही महसंग्राम छिड़ गया है. 

Chomu: सामान्य की सीट पर OBC को Chairman? शुरू हो गया महासंग्राम
अनुराग शर्मा पूर्व छात्रसंघ,अध्यक्ष

प्रदीप सोनी, चौमूं: राजधानी जयपुर चौमूं नगर पालिका (Chomu Municipality) में चेयरमैन (Chairman) बनने से पहले ही महसंग्राम छिड़ गया है. गौरतलब है कि नगर पालिका में इस बार चेयरमैन पद सामान्य वर्ग के लिए आवंटित हुआ है. वहीं, 45 वार्डों के चुनाव परिणाम के रोचक नतीजों में कांग्रेस (Congress) को जनता ने अपार जन समर्थन देकर 30 सीटें दी है. यानी कांग्रेस अपने पूर्ण बहुमत के साथ चेयरमैन बना रही है. कांग्रेस ने सामान्य वर्ग को नजरअंदाज कर पूर्व विधायक भगवान सहाय सैनी के पुत्र विष्णु सैनी पर ही दांव खेला है. यानी पूर्व विधायक भगवान सहाय सैनी (Former MLA Bhagwan Sahai Saini) अपने पुत्र मोह में फंस गए. 

कांग्रेस की टिकट पर पूर्व विधायक ने अपने पुत्र विष्णु सैनी (Vishnu Saini) का नामांकन चेयरमैन पद के लिए दाखिल करवा दिया है. इससे अब सामान्य वर्ग के लोगों में नाराजगी देखी जा सकती है. यदि एक नजर नगर पालिका चुनाव में आवंटित की गई सीटों और टिकटों पर डाली जाए तो 31 वार्डों की लॉटरी सामान्य वर्ग के निकाली गई थी. इस चुनाव में 31 सीटों पर कांग्रेस ने महज 6 सामान्य वर्ग के प्रत्याशियों को ही चुनाव मैदान में उतारा तो वहीं भाजपा ने 9 प्रत्याशियों को चुनाव मैदान में उतारा. कांग्रेस के 6 में से 4 प्रत्याशी चुनाव हार गए लेकिन दो महिला प्रत्याशी चुनाव जीत गई. अब सामान्य वर्ग के लोग चाहते हैं की सामान्य वर्ग की महिलाओं को चेयरमैन बनाना चाहिए. अपने हक को लेकर सामान्य वर्ग के लोगों ने नगर पालिका परिसर में आज प्रेस कॉन्फ्रेंस की. 

प्रेस कॉन्फ्रेंस को संस्कृत विश्वविद्यालय के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष अनुराग शर्मा ने संबोधित किया. अनुराग शर्मा ने कहा कि यदि सामान्य वर्ग को आप नही चाहते हो तो ओबीसी वर्ग में भी और कई अन्य दिग्गज पार्षद थे जो दो दो तीन तीन बार जीत कर आए हैं. सामान्य वर्ग में सबसे पहला नाम कुसुम भातरा का आया जो दूसरी बार पार्षद का चुनाव जीतकर आई है. उन्हें भी चेयरमैन बनाया जा सकता था. अपने पुत्र को चेयरमैन बनाकर वंशवाद की राजनीति की जा रही है. अनुराग शर्मा ने इस पूरे मामले को लेकर आंदोलन करने की चेतावनी भी दी है. प्रेस कॉन्फ्रेंस में ब्राह्मण समाज के जिला अध्यक्ष भुवनेश तिवारी, राजपूत समाज के महासचिव अजित सिंह भी मौजूद रहे.

ये भी पढ़ें: Rajasthan में Gehlot सरकार के 2 साल पूरे, मंत्री Khachariyawas ने दिया यह बड़ा बयान