close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चूरू: बलात्कार के आरोपी को पॉक्सो कोर्ट ने सुनाई आजीवन कारावास की सजा

एक्सीडेंट की घटना उन्होंने 10 सितंबर 2014 को नाबालिका को बताइ और उसी दिन उसका नाबालिक साथी उसे लेकर पिलानी चला गया. 

चूरू: बलात्कार के आरोपी को पॉक्सो कोर्ट ने सुनाई आजीवन कारावास की सजा
प्रतीकात्मक तस्वीर

चूरू: विशेष न्यायालय पॉक्सो कोर्ट के न्यायाधीश राजेंद्र कुमार सैनी ने आज पोक्सो मामले में प्रमोद को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है और 1 लाख रुपये के आर्थिक दंड से भी दंडित किया है. इस मामले की पैरवी लोक अभियोजक गोपाल शर्मा ने की है. घटना 17 सितम्बर 2014 की है मामला हमीरवास थाने में दर्ज हुआ था.

हमीरवास थाना क्षेत्र के नवा गांव की 12वीं कक्षा की छात्रा को जो नाबालिक थी उसका ही एक नाबालिग साथी उसे बहला-फुसलाकर भगा ले गया था. इस नाबालिग छात्र ने नाबालिग छात्रा से कहा कि उसके पिता का एक्सीडेंट हो गया है और वह पिलानी के अस्पताल में भर्ती हैं. यह एक्सीडेंट की घटना उन्होंने 10 सितंबर 2014 को नाबालिका को बताइ और उसी दिन उसका नाबालिक साथी उसे लेकर पिलानी चला गया. 

पिलानी में इस नाबालिगों को एक घर में ले गया वहां पर पहले से ही प्रमोद नामक युवक मौजूद था इन दोनों ने इस नाबालिका से कहा कि उसके पिता की घटना उसे झूठ बताई थी और उन्होंने उसके साथ जबरदस्ती बलात्कार किया. इसके बाद उन्होंने उसे उसके गांव नवां छोड़ दिया.

दो-तीन दिन बाद उसने सारी आपबीती अपने पिता को बताई. इस पर नाबालिका के पिता ने हमीरवास थाने पहुंचकर 17 सितंबर 2014 को मामला दर्ज करवाया था. जिसकी सुनवाई करते हुए आज विशेष न्यायालय पॉक्सो कोर्ट के न्यायाधीश राजेंद्र कुमार सैनी ने प्रमोद जो झुंझुनू जिले के रूपपुरा गांव का रहने वाला है उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई है तथा 1 लाख रुपये के अर्थदंड से दंडित किया है. इस मामले की पैरवी लोक अभियोजक गोपाल शर्मा ने की है.