close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

खुद PM मोदी ने की थी गहलोत सरकार के इस कदम की तारीफ, योजना बनी ऐतिहासिक

इस योजना से दो तरह से लाभ दिया जा रहा है. एक निशुल्क दवाइयां - सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों में आने वाले रोगियों को सामान्य तौर पर उपयोग की जाने वाली आवश्यक दवाइयों को निशुल्क उपलब्ध कराना. दूसरा, निशुल्क परीक्षण - सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों में आने वाले रोगियों का नि: शुल्क परीक्षण सुनिश्चित करना.

खुद PM मोदी ने की थी गहलोत सरकार के इस कदम की तारीफ, योजना बनी ऐतिहासिक
प्रतीकात्मक फोटो.

मनोहर विश्नोई, नई दिल्ली: राजस्थान के मुख्यमंत्री के तौर पर तीसरी बार कमान संभालते ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने निशुल्क दवा योजना (Free Medicine Scheme) को ड्रीम प्रोजेक्ट के रूप में लिया. गहलोत सरकार की संवेदनशीलता से अब यह योजना ऐतिहासिक सफलता हासिल करने जा रही है. 

किसी सरकारी योजना से जनता को लाभान्वित करने वाली देश की पहली ऐतिहासिक योजना बनने जा रही है. इस योजना से 2011 से अब तक 70 करोड़ से अधिक मरीज लाभान्वित हुए हैं. साथ ही इस योजना में दवाओं की संख्या 200 से बढ़ाकर अब 712 कर दी गई है, जो अपने आप में एक रिकॉर्ड है.

दरअसल, मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना (Free Medicine Scheme) का शुभारंभ 2 अक्टूबर 2011 को तत्कालीन कांग्रेस सरकार के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने करौली से किया था. इसमें प्रथम चरण में 200 प्रकार की दवाइयां को रखा गया था. धीरे-धीरे इन दवाओं की संख्या बढ़ती गई और अब 9 साल में अस्पतालों में  इन दवाओं की 712 हो गई है.

इस योजना की सफलता का अंदाजा इस बात भी लगाया जा सकता है कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (National Health Mission) की ओर से जारी मासिक रैंकिंग में राजस्थान सरकार की मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना को 16 राज्यों में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) भी इस योजना की तारीफ कर चुके हैं.

किस तरह दिया जा रहा इस योजना का लाभ
इस योजना से दो तरह से लाभ दिया जा रहा है. एक निशुल्क दवाइयां - सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों में आने वाले रोगियों को सामान्य तौर पर उपयोग की जाने वाली आवश्यक दवाइयों को निशुल्क उपलब्ध कराना. दूसरा, निशुल्क परीक्षण - सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों में आने वाले रोगियों का नि: शुल्क परीक्षण सुनिश्चित करना.

कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडे ने की तारीफ
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) की इस निशुल्क दवा योजना को ऐतिहासिक जन हितैषी कदम बताते हुए प्रदेश कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडे ने कहा कि कांग्रेस की सरकारें हमेशा जनता के दुख-दर्द में साथ खड़ी रहती हैं. उसमें भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की यह संवेदनशीलता दर्शाती है. गहलोत हमेशा पीड़ित और अभावग्रस्त लोगों की मदद के लिए सराहनीय प्रयास करते रहते हैं. निशुल्क दवा योजना भी इनमें से एक है, जिससे हजारों जिंदगियां बची हैं. इस योजना से लाभान्वितों की संख्या ने एक ऐतिहासिक रिकॉर्ड बनाया है. इसी तरह कई अन्य योजनाओं के माध्यम से अशोक गहलोत सरकार जरूरतमंदों को सरकारी सुविधाएं उपलब्ध करवा रही है.