राजस्थान के खिलाड़ियों के वारे-न्यारे, सीएम गहलोत ने दी बड़ी सौगात

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने बजट भाषण के दौरान स्लोगन दिया था कि 'फिट राजस्थान तो हिट राजस्थान'.

राजस्थान के खिलाड़ियों के वारे-न्यारे, सीएम गहलोत ने दी बड़ी सौगात
फाइल फोटो

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने अपने बजट भाषण के दौरान स्लोगन दिया था कि 'फिट राजस्थान तो हिट राजस्थान'. इसी थीम के तहत प्रदेश के मुखिया लगातार खिलाड़ियों का प्रोत्साहन बढ़ाने के लिए सौगातों की झड़ी लगाते जा रहे हैं. पहले बजट भाषण में इनाम राशि को बढ़ाया फिर मैडल जीतने वाले खिलाड़ियों को भूमि आवंटन और अब 29 खिलाड़ियों को राजकीय सेवा में आउट ऑफ टर्न नियुक्ति देने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है.

खेलों को बढ़ावा देने के लिए प्रवर्ग 'क' के 11 खिलाड़ियों को राजस्थान पुलिस सेवा, राजस्थान आबकारी सेवा, राजस्थान वन सेवा, राजस्थान शिक्षा विभाग एवं तकनीकी अभियांत्रिकी सेवा में नियुक्ति दी जाएगी. इनमें से 6 खिलाड़ियों को उप अधीक्षक पुलिस और 5 खिलाड़ियों को सहायक वन संरक्षक के पद पर नियुक्ति दी जाएगी. वहीं प्रवर्ग 'ख' में 11 खिलाड़ियों को पुलिस उप निरीक्षक, एक खिलाड़ी को आबकारी रक्षक, 5 खिलाड़ियों को क्षेत्रीय वन अधिकारी और एक खिलाड़ी को शारीरिक प्रशिक्षण अनुदेशक-द्वितीय के पद पर नियुक्ति दी जाएगी.

इतना ही नहीं सीएम गहलोत ने वर्तमान में मिलने वाले दैनिक भत्ते को भी दोगुना करने का ऐलान कर दिया है. जिसके तहत राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में भाग लेने वाले खिलाड़ियों को अब 1 हजार मिलेंगे. पहले इन खिलाड़ियों को 500 रुपए का भुगतान होता था. वहीं राज्य स्तरीय प्रतियोगिताओं में भाग लेने वाले खिलाड़ियों को अब 600 रुपए मिलेंगे. पहले इन खिलाड़ियों को 300 रुपए मिलते थे.

18 अक्टूबर 2020 को ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मैडल जीतने वाले 5 खिलाड़ियों को निशुल्क तथा देश का प्रतिनिधित्व करने वाले 8 खिलाड़ियों को आरक्षित दर पर भूमि आवंटन के प्रस्ताव को स्वीकृति दी थी. ओलंपिक, एशियाई एवं राष्ट्रमंडल जैसे अन्तरराष्ट्रीय खेल आयोजनों में अपने उत्कृष्ट खेल प्रदर्शन से देश एवं प्रदेश का नाम रोशन करने वाले राजस्थान के मूल निवासी 13 खिलाड़ियों को इंदिरा गांधी नहर परियोजना क्षेत्र में 25-25 बीघा भूमि आवंटित करने का महत्वपूर्ण फैसला किया था.

मुख्यमंत्री गहलोत के ऐतिहासिक फैसले पर प्रदेश के खेल मंत्री अशोक चांदना ने कहा कि मेरे राजनैतिक जीवन की है ये सबसे बड़ी उपलब्धि है. मैं खिलाड़ियों की परेशानियां, सामाजिक, आर्थिक एवं दैनिक जीवन की कठिनाइयों को भली भांति जानता हूं. इसके लिए हमारी टीम ने मिलकर आउट ऑफ टर्न पॉलिसी बनाकर चयन प्रक्रिया पूरी की.  सी कैटेगरी के अंतर्गत लगभग 450 खिलाड़ियों की दी जायेगी जल्द नियुक्ति. इस प्रक्रिया को भी प्रारंभ कर दिया गया है, इसे भी जल्द पूर्ण किया जाएगा ..

दरअसल हरियाणा, पंजाब और उत्तर प्रदेश में खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए दैनिक भत्ते से लेकर सरकारी नौकरी और इनाम राशि समय समय पर बढ़ाई गई. उससे ना सिर्फ खिलाड़ियों को प्रोत्साहन मिला बल्कि उन्हे वो सम्मान भी मिला. जिसके वो हकदार हैं. इसी तर्ज पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने फिट राजस्थान तो हिट राजस्थान का सपना देखा और उसे पूरा करने के लिए वो लगातार खिलाड़ियों को सौगातें दे रहे हैं.

कृष्ण सैनी