कल आएगा पायलट गुट की याचिका पर फैसला, CM गहलोत ने भी बनाई यह रणनीति

अगर पायलट गुट को राहत मिलती है तो अशोक गहलोत के लिए बेचैन करने वाली खबर है.

कल आएगा पायलट गुट की याचिका पर फैसला, CM गहलोत ने भी बनाई यह रणनीति
गहलोत गुट ने यह तय कर लिया है कि हाई कोर्ट से फैसला जो भी आए, अब विधानसभा में अपनी ताकत दिखाएंगे.

जयपुर: सुप्रीम कोर्ट में कोई फैसला नहीं होने के बाद अब सबकी नजरें राजस्थान हाई कोर्ट पर टिकी हुई हैं. सचिन पायलट (Sachin Pilot) गुट की तरफ से राजस्थान हाई कोर्ट में लगी याचिका पर हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश की खंडपीठ कल फैसला सुनाएगी. 

इसमें यह तय हो जाएगा कि सचिन पायलट के साथ गए 19 विधायक विधानसभा में आने से पहले अयोग्य होंगे या नहीं. अगर पायलट गुट को राहत मिलती है तो अशोक गहलोत के लिए बेचैन करने वाली खबर है और अगर पायलट गुट की याचिका खारिज होती है तो अशोक गहलोत सरकार के लिए संजीवनी साबित होगी. 

यह भी पढ़ें- अब राजस्थान में शुरू हुआ 'पत्र वॉर', पूनिया ने गहलोत सरकार पर बोला बड़ा हमला

इस बीच कोर्ट के फैसले को देखते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने तय किया है कि सोमवार से विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया जाए और वहां पर किसी विधेयक के जरिए मत विभाजन कर अपनी ताकत का अंदाजा लगाया जाए. गहलोत गुट ने यह तय कर लिया है कि हाई कोर्ट से फैसला जो भी आए, अब विधानसभा में अपनी ताकत दिखाएंगे. 

अशोक गहलोत को लगता है कि जो आंकड़ा सरकार के पास है, उससे सरकार की नैया पार लग जाएगी. अशोक गहलोत एक तरफ ताबड़तोड़ हमला बोल रहे हैं तो दूसरी तरफ सचिन पायलट का खेमा पूरी तरह से खामोश है. इस बीच कल रात फेयर माउंट होटल में क्रांति फिल्म दिखाई गई.