सुजानगढ़ पंचायत चुनाव में रोचक हुआ मुकाबला, प्रत्याशियों ने शहर बुलाए वोटर

सुजानगढ़ के गुड़ावड़ी पंचायत से सामान्य महिला सीट पर सरपंच पद का चुनाव लड़ रही अमृता चौधरी डोर टू डोर जनसम्पर्क कर मतदाताओं को रोजगार उपलब्ध करवाने का वादा कर रही है. 

सुजानगढ़ पंचायत चुनाव में रोचक हुआ मुकाबला, प्रत्याशियों ने शहर बुलाए वोटर
सरपंच पद के लिए प्रत्याशी बड़े-बड़े दावे कर रहे हैं.

चुरू: सरपंच पद का चुनाव प्रत्याशियों के लिए अब मूंछ का सवाल बनता जा रहा है. कहीं पर सरपंच पद के लिए प्रत्याशी बड़े-बड़े दावे कर रहे है तो कहीं पर वोटरों को लुभाने के लिए पूरे प्रयास किये जा रहे है. चूरू जिले के सुजानगढ़ के ग्रामीण अंचल में भी ऐसा नजारा देखने को मिल रहा है. यहां पर वोट पाने की लालसा में उम्मीदवारों को यह भी पता ही नहीं लग रहा की कब रात को सोना है और कब रात को उठना है. उम्मीदवारों के समर्थक आकर ही नींद से उठाने और संदिग्थ वोटरों को पक्का करने के प्रयास में अपने अपने लुभावने हथकंडों के तीर दागते है. वोट के लिए येन-केन प्रकरण कोशिश की जा रही है. 

सुजानगढ़ के गुड़ावड़ी पंचायत से सामान्य महिला सीट पर सरपंच पद का चुनाव लड़ रही अमृता चौधरी डोर टू डोर जनसम्पर्क कर मतदाताओं को रोजगार उपलब्ध करवाने का वादा कर रही है. वहीं, पंचायत की सरपंचाई खुद करने का भरोसा दिला रही है. अमृता का कहना कि वे अगर सरपंच बनती है तो सरपंच का कार्य खुद देखेगी ना कि उनके पति और अन्य रिश्तेदार. इसी गांव में सरपंच पद के लिए चुनाव लड़ रही मंजू के पति ने भी जनसम्पर्क में जोर आजमाइश कर अपने पक्ष में वोट मांगे. 

वहीं, गोपालपुरा पंचायत से 22 वर्षीय एमएससी फाइनल कर चुकी छात्रा व सरपंच पद प्रत्याशी बिंदु पंवार भी शिक्षा के मुद्दे को ग्रामीणों के बीच प्रमुखता से रखकर ग्रामीणों से बेटी को समर्थन करने की अपील कर रही है. सुजानगढ़ के बैरासर में नई पंचायत बनने के बाद इस बार पहला सरपंच का चुनाव मुद्दों का चुनाव बन गया है. 

जबकि, ग्रामीणों ने कहा कि पंचायत बनने से पूर्व गांव की समस्या पर ध्यान नही दिया गया जिसके लिए इस बार सरपंच का चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों से समस्याओं को लेकर आश्वासन लिया जा रहा है. यहां पर मुकाबला रामी देवी व सुगनी देवी के बीच है. शोभासर पंचायत में शबिरा बानो व भगवती डूडी के बीच मुकाबला है, लेकिन प्रचार में दोनों के पति ही मैदान में दिख रहे है. 

वहीं, सुजानगढ़ के चरला पंचायत में भी महिला सीट होने पर पंचायत में संतोष गोदारा अपनी महिला विंग के साथ ढाणी-ढाणी घर दस्तक दे रही व बैलेट पेपर के साथ वोटरों को ईवीएम से कैसे मतदान करना है उनका प्रशिक्षण भी दे रही है. बालेरा ग्राम पंचायत से युवा प्रत्याशी सुरेंद्र सिंह राठौड़ ने ग्रामीणों से वादा किया कि वे पंचायत के चारों गांवों में युवाओं के लिए ट्रैक बनाएंगे, अगर सरकार नहीं बनाएगी तो वे खुद ट्रेक बनाने के लिए सक्षम है. 

बड़ाबर से वर्तमान सरपंच व फिर सरपंच का चुनाव लड़ रही सुनीता भी पंचायत के बाकी काम करवाने का वादा कर रही है. वहीं, पंचायत चुनावों को लेकर मतदाताओं में इतना जोश है कि सुजानगढ़ के शोभासर में वोटर दुबई व मुम्बई से अपने पैतृक गांव पहुंच कर मतदान करने के लिए आतुर है. खुड़ी ग्राम पंचायत में चुनाव लड़ रहे नवीन सीलु ने पंचायत की महिलाओं व ग्रामीणों को नरेगा में रोजगार सहित गांव की समस्याओं का निदान करने का आश्वासन दिया है. गौरतलब है कि सुजानगढ़ पंचायत समिति के अधीनस्थ 34 ग्राम पंचायतों में कुल 133 प्रत्याशी सरपंच पद के चुनाव में भाग्य अजमा रहे है.