close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अलवर: गोविंदगढ़ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की हालत बदतर, प्रशासन को नहीं है सुध

सरकार चिकित्सा सुविधाएं मुहैया कराने का दावा गोविंदगढ़ में हकीकत से बिल्कुल विपरीत नजर आ रही है.

अलवर: गोविंदगढ़ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की हालत बदतर, प्रशासन को नहीं है सुध
उपलब्ध जनरेटर का प्रयोग नहीं किया जाता है. (प्रतीकात्मक फोटो)

अलवर: जिले के गोविंदगढ़ तहसील के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में हालात बदतर हो चुकी है. सरकार चिकित्सा सुविधाएं मुहैया कराने का दावा गोविंदगढ़ में हकीकत से बिल्कुल विपरीत नजर आ रही है. तहसील के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की गंदगी के अलावा जर्जर हालत हो चुकी है. यहां पर महिलाओं की प्रसुता वार्ड में आपातकालीन स्थिति में बिजली की व्यवस्था नहीं है.

वहीं, स्वास्थ्य केंद्र पर उपलब्ध जनरेटर को जरुरत पड़ने पर नहीं प्रयोग किया जाता है. जिस कारण मरीजों और परिजनों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है. प्रसूताओं के परिजनों का आरोप है कि मरीजों को मिलने वाली सुविधाएं भी कर्मचारी और अधिकारी डपट जाते हैं.

बताया जा रहा है कि यहां व्यापत अवयवस्था पर वरीय अधिकारी ने एमआरएस की मीटिंग के दौरान कोई विशेष फैसले नहीं लिए. लेकिन पार्किंग का ठेका ओर बाहर मरीजों के बैठने के लिए बैंच लगवाने की बात तक निपटा गए. इस दौरान आपातकालीन बिजली उपलब्ध कराने के लिए जनरेटर की सुविधा और अस्पताल में स्वच्छता के मामलो पर जिला चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग चुप्पी साधे बैठा है.