राजस्थान निकाय चुनाव 2019: कांग्रेस का घोषणा पत्र जारी, इन 25 मुद्दों पर किए विकास के वादे

पीसीसी चीफ और डिप्टी सीएम सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने भी कहा कि जीतने के बाद सत्ता और संगठन मिलकर दोगुने जोश से काम करेंगे. 

राजस्थान निकाय चुनाव 2019: कांग्रेस का घोषणा पत्र जारी, इन 25 मुद्दों पर किए विकास के वादे
गहलोत ने कहा - जनता के हितों को ध्यान में रखते हुए यह मेनिफेस्टो तैयार किया गया है.

जयपुर: कांग्रेस ने निकाय चुनाव (Local Body Election) को लेकर अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया है. बुधवार को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) और पीसीसी चीफ सचिन पायलट (Sachin Pilot) की मौजूदगी में मेनिफेस्टो जारी किया गया. घोषणा पत्र में कुल 25 बिन्दु शामिल हैं, जिसमें शहरी जनता के कई लुभावने वादे किए गए हैं. इसमें सबसे महत्वपूर्ण मुद्दे भूखंडों के नियमितिकरण और उनके पट्टों से जुड़े हुए माने जा रहे हैं.

बीजेपी (BJP) के बाद अब कांग्रेस ने भी निकाय चुनाव (Local Body Election) के लिए अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया है. पच्चीस बिंदुओं को शामिल करते हुए इस घोषणा पत्र में प्रदेश की जनता से कई लोक लुभावने वादे किए गए हैं. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot), पीसीसी चीफ सचिन पायलट (Sachin Pilot) और प्रदेश प्रभारी महासचिव अविनाश पांडे ने घोषणा पत्र जारी किया. 

मुख्यमंत्री ने बीजेपी (BJP) पर बोला हमला
घोषणा पत्र पर अपनी राय रखते हुए मुख्यमंत्री ने बीजेपी (BJP) पर भी निशाना साधा. गहलोत ने कहा कि कांग्रेस की सरकारों के वक्त हमेशा ज्यादा काम हुआ जबकि बीजेपी (BJP) राज में हमेशा बर्बादी हुई. उन्होंने कहा कि जनता के हितों को ध्यान में रखते हुए यह मेनिफेस्टो तैयार किया गया है और पिछले शासन की तरह इस बार भी हम अच्छा काम करेंगे. सीएम ने जनता से कांग्रेस को निकाय चुनाव (Local Body Election) जिताने का भी आह्वान किया. 

डिप्टी सीएम सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने भी विकास की बात कही
वहीं पीसीसी चीफ और डिप्टी सीएम सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने भी कहा कि जीतने के बाद सत्ता और संगठन मिलकर दोगुने जोश से काम करेंगे. पायलट ने कहा कि पिछली सरकार में जो अनदेखी हुई, उसे दूर करेंगे और मौजूदा कार्यकाल के चार साल में भी जनता तक वास्तविक विकास पहुंचाएंगे. उधर प्रदेश प्रभारी अविाश पांडे ने कहा कि जनता से मिले सुझावों पर अमल कर घोषणा पत्र तैयार किया गया है. 

मंत्री शांति धारीवाल बोले - सरकार कर रही बेहतर काम
यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल ने इस घोषणा पत्र के बिंदुओं का ज़िक्र करते हुए कहा कि इसमें ज्यादातर मुद्दे सीधे तौर पर जनता से जुड़े हैं. धारीवाल ने कहा कि लोगों का जीवनस्तर उठाने के लिए सरकार लगातार बेहतर कर रही है और जनता को निकायों के जरिए ज्यादा अच्छी सुविधाएं दी जाएंगी. 

घोषणा पत्र के प्रमुख मुद्दों की बात की जाए तो -
- अनुमोदित आवासीय योजनाओं में भूखंडों के बकाया प्रकरणों के पट्टे जारी करने की बात कही गई है.
- स्टेट ग्रांट के तहत पुराने भवनों के मालिकों को पट्टे जारी किए जाएंगे.
- कृषि भूमि के आवासीय भूखण्डों का भू-रुपांतरण कर पट्टे जारी किए जाएंगे.
- कृषि भूमि पर खातेदारों द्वारा अपंजीकृत दस्तावेजों से बेचे गये भूखंड नियमित होंगे.
- भवन मानचित्र प्रक्रिया का सरलीकरण होगा.
- जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों के प्रशिक्षण के लिये शहरी विकास केंद्र गठित होगा.
- एडीबी के वित्तीय सहयोग से 3 साल में 5 हजार करोड़ के कार्य होंगे.
- भरतपुर, उदयपुर और बीकानेर में शहरी बस सेवा का संचालन शुरु होगा.
- 5 एरियल हाइड्रोलिक लेडर और 100 अग्निशमन वाहन खरीदे जाएंगे.
- स्मार्ट सिटी के तहत 2 साल में 4 शहरों में 3500 करोड़ के कार्य होंगे.
- आरयूडीएफ फंड को पुनर्जीवित किया जाएगा.
- पार्कों, कब्रिस्तानों और श्मशानों का विकास कर सुविधा युक्त बनाया जाएगा.
- शहरी निकायों की नीलामी की प्रक्रिया का सरलीकरण होगा.

पार्टी नेताओं का मानना है कि इन 25 मुद्दों के बूते निकाय चुनाव (Local Body Election) में पार्टी बेहतरीन प्रदर्शन करेगी और ज्यादातर निकायों में कांग्रेस का बोर्ड बनेगा.