जयपुर से जैसलमेर शिफ्ट हुए कांग्रेस MLA, बोले- 14 अगस्त को बेनकाब होगी BJP की साजिश

अधिकतर मंत्री इस अवधि में सचिवालय में मौजूद रहकर कामकाज की बागडोर संभालेंगे. 

जयपुर से जैसलमेर शिफ्ट हुए कांग्रेस MLA, बोले- 14 अगस्त को बेनकाब होगी BJP की साजिश
अधिकतर मंत्री इस अवधि में सचिवालय में मौजूद रहकर कामकाज की बागडोर संभालेंगे.

जयपुर: राजस्थान में जारी सियासी संग्राम में सत्तापक्ष के विधायक जयपुर से जैसलमेर शिफ्ट हो गए हैं. ज़ी मीडिया से बातचीत करते हुए मंत्री डॉ. रघु शर्मा और प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि सरकार सचिवालय से कामकाज करती रहेगी. 

अधिकतर मंत्री इस अवधि में सचिवालय में मौजूद रहकर कामकाज की बागडोर संभालेंगे. जनता के हित के काम करेंगे. प्रदेश कोरोना वायरस और अन्य चुनौतियों का सामना कर रहा है. इस बीच में भाजपा की सरकार गिराने की साजिश नाकाम होगी. नतीजा 14 अगस्त को विधानसभा में सभी को दिखेगा.

जयपुर में होटल फेयरमाउंट से रवाना होते समय मीडिया से बातचीत में चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि अशोक गहलोत के नेतृत्व में कांग्रेस मजबूत है. हमने कोरोना संक्रमण के दौरान प्रदेश की जनता को काम करके दिखाया है. पूरे देश विदेश में इसे सराहा गया है. भाजपा की सरकार गिराने की कोशिश हम कामयाब नहीं होने देंगे. 14 अगस्त को इसका पता सभी को लगेगा. साथ ही उन्होंने कहा कि बसपा के मसले पर भाजपा के हाथ कुछ नहीं लगने वाला. केंद्रीय जांच एजेंसियों के जरिए हमारे इरादों को कमजोर नहीं किया जा सकता. हम एक हैं और रहेंगे.

मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि जयपुर से जैसलमेर विधायकों को शिफ्ट करने का निर्णय मुख्यमंत्री ने सबकी सहमति से लिया है. अभी भी कुछ ताकतें सेंधमारी का प्रयास कर रही हैं लेकिन वह अपने इरादों में सफल नहीं हो पाएंगी. जनता से जुड़े हुए काम मंत्री जयपुर में रहकर सचिवालय से करेंगे. कांग्रेस के बागी विधायकों के बारे में उन्होंने कहा कि संख्या बल हमारे पास है, उन्हें वापस कांग्रेस में आना ही होगा.

राजस्थान की राजनीति में होटल पॉलिटिक्स भले ही जयपुर से जैसलमेर शिफ्ट हो गई हो, लेकिन नजरें अभी भी बागी गुट पर बनी हुई है. फैसला 14 अगस्त को राजस्थान विधानसभा में होगा. तब तक राजनीतिक बयानबाजी और कयास का दौर जारी रहने की पूरी संभावना है.