close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अजमेर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा फर्जी मतदान कराने का प्रयास: बीजेपी

मंगलवार को अजमेर में भाजपा प्रत्याशी व शहर जिला भाजपा द्वारा प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया, जिसमें भाजपा प्रत्याशी भागीरथ चौधरी ने आठों विधानसभा से बड़े अंतर से जीतने का दावा किया 

अजमेर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा फर्जी मतदान कराने का प्रयास: बीजेपी
बीजेपी ने जिला प्रशासन पर कांग्रेस के दबाव में काम करने का आरोप लगाया.

अजमेर: भारतीय जनता पार्टी ने अजमेर लोकसभा चुनाव में जिला प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रशासन ने कांग्रेस के इशारे पर काम किया. बीजेपी ने आरोप लगाया कि कई स्थानों पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा फर्जी मतदान कराने का प्रयास किया गया. साथ ही बीजेपी ने यह दावा भी किया कि पुलिस प्रशासन ने पार्टी के कार्यकर्ताओं पर कार्रवाई कि इसके बावजूद भी अजमेर लोकसभा में भारतीय जनता पार्टी बड़ी मार्जन से जीत दर्ज करेगी.

मंगलवार को अजमेर में भाजपा प्रत्याशी व शहर जिला भाजपा द्वारा प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया, जिसमें भाजपा प्रत्याशी भागीरथ चौधरी ने आठों विधानसभा से बड़े अंतर से जीतने का दावा किया है. भागीरथ चौधरी ने कहा कि वह इस चुनाव में कार्यकर्ताओं में आम जनता का आभार व्यक्त करते हैं कि उन्होंने राष्ट्र हित को ध्यान में रखकर अधिक से अधिक वोट किया जिसका फायदा भारतीय जनता पार्टी को मिलेगा. इस मौके पर उन्होंने जिला प्रशासन पर कांग्रेस के दबाव में काम करने का आरोप लगाया.

प्रेस वार्ता के दौरान लोकसभा संयोजक सुरेश रावत पूर्व मंत्री व विधायक वासुदेव देवनानी अजमेर देहात अध्यक्ष बीपी सारस्वत सहित पदाधिकारी मौजूद रहे. पूर्व मंत्री व विधायक वासुदेव देवनानी ने कांग्रेस पर जमकर आरोप लगाए. वहीं बीपी सारस्वत ने कहा कि प्रशासन की जानकारी के बावजूद पूर्व मंत्री बीना काक अजमेर संसदीय सीट पर कांग्रेस के लिए प्रचार करती दिखी.

बीपी सारस्वत के मुताबिक इतना सब हो जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई. वहीं वासुदेव देवनानी ने जिला प्रशासन पर कांग्रेस के दबाव में काम करने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस की कुछ भी करने के बावजूद वह लोकसभा में राजस्थान की 13 सीटें गवाने जा रही है इस हार के बाद राजस्थान में एक बड़ी उथल पुथल देखने को मिलेगी. कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा था कि जो मंत्री अपनी संसदीय सीट नहीं बचा पाएगा उसे हटा दिया जाएगा और इस हिसाब से तो कई जगह मंत्री बदलने पड़ेंगे और मुख्यमंत्री को अपने पद से हटना होगा.