नागौर में 50 हजार की घूस लेते कांस्टेबल ट्रैप, डोडा पोस्त के वाहन से जुड़े मामले में मांगी रिश्वत

नागौर में एसीबी की टीम ने कार्रवाई करते हुए 50 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए कांस्टेबल को रंगे हाथ गिरफ्तार किया है.

नागौर में 50 हजार की घूस लेते कांस्टेबल ट्रैप, डोडा पोस्त के वाहन से जुड़े मामले में मांगी रिश्वत
कांस्टेबल विजय कुमार चौधरी

हनुमान तंवर, नागौर: राजस्थान के नागौर में एसीबी की टीम ने कार्रवाई करते हुए 50 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए कांस्टेबल को रंगे हाथ गिरफ्तार किया है. डीडवाना एडिशनल एसपी ऑफिस में पदस्थापित कांस्टेबल विजय कुमार चौधरी को एसीबी की टीम ने लाडनूं में कार्रवाई कर गिरफ्तार किया है. 

एसीबी की कार्रवाई की भनक लगने पर आरोपी कॉन्स्टेबल ने भागने की भी कोशिश की, लेकिन मुस्तेदी से तैनात एसीबी की टीम ने आधा किलोमीटर तक पीछा कर आरोपी को गिरफ्तार किया है.जानकारी के अनुसार परिवादी की एक कार उसका दोस्त मांग कर ले गया था, जिसको आरोपी कांस्टेबल ने रोका तो गाड़ी से 40-50 किलो डोडा पोस्त बरामद किया. जिस पर आरोपी कांस्टेबल ने ड्राइवर पर कार्रवाई नहीं करते हुए गाड़ी मालिक को फोन किया तो मालिक ने कार्रवाई करने की बात कही. 

आरोपी कांस्टेबल ने कार्रवाई करने की बजाय पुनः मालिक से संपर्क कर मिलने को कहा और मामला रफा दफा करने की बात कहकर 5 लाख रुपये की डिमांड की. जो डील ढाई लाख में सेट होने पर परिवादी ने एक लाख तुरंत दे दिए और बाकी अमाउंट कुछ दिन बाद देने की बात कही. जिस पर परिवादी की गाड़ी छोड़ दी गई, लेकिन कुछ दिनों तक पेमेंट नहीं देने पर आरोपी पीड़ित को बार-बार फोन करने लगे और उसके शोरूम पर जाकर धमकाने लगे. 

पीड़ित ने परेशान होकर एसीबी से संपर्क किया. परिवादी द्वारा सुजानगढ़ में 50 हजार रुपये देने की बात तय थी लेकिन आरोपी ने उसे लाडनूं बुलाया । जहां परिवादी ने 50 हजार आरोपी को दे दिए लेकिन आरोपी को ट्रेप की कार्रवाई का शक हुआ तो आरोपी मौके से भागने लगा जिसपर टीम ने आधा किलोमीटर तक पीछा करके आरोपी को धर दबोचा और 50 हजार रिश्वत के साथ रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया. कार्रवाई के लिए पुलिस थाना डीडवाना लेकर कार्रवाई की गई. कल आरोपी को एसीबी की टीम कोर्ट में पेश करेगी. वहीं, इस मामले के तार और भी लोगों से जुड़े होने की संभावना होने के चलते एसीबी इसमे पूछताछ के बाद जांच करेगी.