उदयपुर में कोरोना का विस्फोट जारी, 3 दिन में सामने आए 127 नए संक्रमित

लगातार बढ़ रहे कारोना संक्रमण को लेकर जिला प्रशासन के साथ स्वास्थ्य विभाग में भी हड़कंप मचा हुआ है.

उदयपुर में कोरोना का विस्फोट जारी, 3 दिन में सामने आए 127 नए संक्रमित
प्रतीकात्मक तस्वीर.

अविनाश जगनावत, उदयपुर: लेकसिटी उदयपुर में लगातार कोरोना संक्रमण फैलता जा रहा है. शुक्रवार को जिले में एक बार फिर कोरोना संक्रमण का ब्लास्ट हुआ और कोरोना के 44 नए संक्रमित सामने आए हैं, जिसमें 6 कोरोना वॉरियर्स भी शामिल है. 

लगातार बढ़ रहे कारोना संक्रमण को लेकर जिला प्रशासन के साथ स्वास्थ्य विभाग में भी हड़कंप मचा हुआ है. तो वहीं, संक्रमितों में बढ़ रही कोरोना वॉरियर्स की संख्या ने इस परेशानी को ओर भी बढ़ा दिया है हालांकि इस बीच दोपहर बाद जारी हुई 700 संदिग्धों की जांच रिपोर्ट में एक भी संक्रमित के सामने नहीं आने से अधिकारियों ने राहत की सांस ली. प्रशासन की ओर से लगातार कोरोना संक्रमण पर लगाम लगाने के प्रयास किए जा रहे हैं.

पांच दिनों की यह रही स्थिति  
इस सप्ताह की बात करे तो बीते पांच दिनों में 183 कोरोना पॉजिटिव के केस सामने आए हैं. इसी दौरान कोरोना काल में एक ही दिन में सर्वाधिक केस के सामने आए का भी रिकॉर्ड दर्ज किया है, जहां बुधवार को 79 संक्रमित सामने आए. इस दौरान जिले में 20 कोरोना वॉरियर्स भी संक्रमण का शिकार हुए हैं, जिसमें डॉक्टर, नर्सिंग कर्मी, आशा सहयोगिनी, पुलिस कॉन्स्टेबल और होमगार्ड के जवान शामिल है. कोरोना वॉरियर्स में संक्रमण को रोकने के लिए जिला कलक्टर विशेष प्रयास करने की हिदायत भी दी है.  

शुक्रवर की यह रही स्थिति
सीएमएचओ कार्यालय की ओर से शुक्रवार को 1492 संदिग्धों की जांच रिपोर्ट जारी की गई, जिसमें 50 नए संक्रमित सामने आए हैं. संक्रमितों में 6 कोरोना वॉरियर्स शामिल हैं, जिसमें एमबी हॉस्पिटल का नर्सिंग कर्मी, भूपालपुरा यूपीएचसी का लैब असिस्टेंट, मावली ब्लॉक सीएमएचओ ऑफिस का क्लर्क, मावली और झल्लारा के बीडीओ ऑफिस के एक-एक कर्मचारी के साथ जिला परिषद का एक कर्मचारी शामिल हैं. 

ओगणा के सभी संक्रमितों की रिपोर्ट आई नेगिटिव
बुधवार को जिले के आदिवासी अंचल के ओगणा इलाके से पॉजिटिव आए 30 मरीजों की प्रशासन ने रिसैंपलिंग करवाई, जिसमें चौकाने वाली रिपोर्ट सामने आई है. एक दिन बाद ही सभी संक्रमितों की रिपोर्ट नेगिटिव आ गई है. इसके बाद प्रशासन ने राहत की सांस ली है. क्षेत्र में लगाई गई निषेधाज्ञा को मामूली छूट के बाद लागू रखा गया है, जिससे संक्रमण को फैलने से रोका जा सके.

कलक्टर देवड़ा ने की अपील
उदयपुर जिला कलक्टर चेतन देवड़ा ने जिलेवासियों से अपील की है कि वे रक्षाबंधन और ईद को पर्व घरों में रह कर ही मनाएं. लोग कोविड-19 को लेकर सरकार की तरफ से जारी गाइड लाइन की पालना करें, जिससे हम सब मिल कर कोरोना संक्रमण को रोकने को लेकर किए जा रहे प्रयासो में सफल हो सकें.