कोविड ने बढ़ाई गहलोत सरकार की चिंता, 339 नए केस के साथ एक्टिव मामलों हुए 8587

राजस्थान स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, अब तक कुल पॉजिटिव मामलों का आंकड़ा 32673 पहुंच गया है, जबकि कुल पॉजिटिव में से 23498 कोविड मरीज रिकवर्ड हुए हैं.

कोविड ने बढ़ाई गहलोत सरकार की चिंता, 339 नए केस के साथ एक्टिव मामलों हुए 8587
राजस्थान में गुरुवार सुबह साढ़े दस बजे तक कोविड -19 के 339 नए मामलों की पृष्टि हुई है.

आशुतोष शर्मा/जयपुर: एक तरफ राजस्थान में अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) और सचिन पायलट (Sachin Pilot) के बीच का विवाद प्रतिदिन नए-नए रंग दिखा रहा है तो वहीं, दूसरी तरफ राजस्थान में कोरोना वायरस (Coronavirus) का संक्रमण अपना भयावह रूप दिखा रहा है.

राजस्थान में गुरुवार सुबह साढ़े दस बजे तक कोविड -19 के 339 नए मामलों की पृष्टि हुई है. इसके बाद, राज्य में एक्टिव मामलों की संख्या बढ़कर 8587 हो गई है. राजस्थान स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव मामलों का आंकड़ा 32673 पहुंच गया है, जबकि कुल पॉजिटिव में से 23498 कोविड मरीज रिकवर्ड हुए हैं.

वहीं, राज्य में कोविड मरीजों की मौत की संख्या बढ़कर 588 पहुंच गई है. जबकि गुरुवार सुबह तक सबसे अधिक मामले जोधपुर और अलवर से सामने आए हैं. जानकारी के अनुसार, जोधपुर में 105, कोटा में 41, सवाईमाधोपुर में 3, झुंझुनू में 1, बांसवाडा में 3, जयपुर में 51, दौसा में 1, अजमेर में 30, गंगानगर में 1, अलवर में 92, झालावाड़ में 1 और बारां में 10 कोविड मरीजों की पृष्टि हुई है.

इधर, राजस्थान में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ने से अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) सरकार चिंतित है और इसी क्रम में सरकार ने कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए नया आदेश जारी किया है. गृह विभाग की ओर से जारी आदेश में सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing),अंतर राज्य आवागमन कंट्रोल का सख्ती से पालन करने के निर्देश दिए गए हैं.

दरअसल, कोरोना संक्रमण की समीक्षा के दौरान सामने आया कि, कोरोना को लेकर सरकारी आदेशों का पालन नहीं हो रहा है. इनमें व्यक्तियों के सोशल डिस्टेंसिंग के पालन नहीं करने और बॉर्डर पर व्यक्तियों का अनियंत्रित आवागमन होने से संक्रमण बढ़ा है. ऐसे में सरकार को नए सिरे से आदेश जारी करने पड़े हैं. 

वहीं, इन नियमों का पालन नहीं करने पर कोरोना महामारी एक्ट के तहत जुर्माना लगाया जाएगा. इधर, बॉर्डर पर वाहनों का आवागमन बदस्तूर जारी है, जिससे संक्रमण बढ़ा है. इसको लेकर बॉर्डर के सभी जिला एसपी, कलेक्टर को सख्ती से नियमों को पालन करने का निर्देश दिया गया है.