राजस्थान के 33 जिलों में से 18 जिलों में फैला कोरोना, 41 तबलीगी जमाती पॉजिटिव

कोरोना महामारी से जूझ रहे राजस्थान की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. 

राजस्थान के 33 जिलों में से 18 जिलों में फैला कोरोना, 41 तबलीगी जमाती पॉजिटिव
प्रतीकात्मक तस्वीर

जयपुर: कोरोना महामारी से जूझ रहे राजस्थान की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. आज यानी की 4 अप्रैल को सुबह 8.30 बजे तक 12 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं. यह आंकड़ा अब 191 तक पहुंच गया है.

12 पॉजिटिव केस में से 8 केस तबलीगी जमाती के हैं. बांसवाड़ा जिले से दो पॉजिटिव केस आये हैं. चुरू जिले से दो तबलीगी जमाती पॉजिटिव आये हैं. इसके अलावा 6 तबीलगी जमाती झुंझुनूं जिले से पॉजिटिव आये हैं. एक पॉजिटिव केस भीलवाड़ा बांगड़ हॉस्पिटल ओपीडी का मरीज है. बीकानेर में एक 60 वर्षीय महिला जिसकी सुबह मौत हुई उसकी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आयी है. 

राजस्थान में अब तक कुल 41 तबलीगी जमाती पॉजिटिव केस आ चुके हैं. राजस्थान के 33 जिलों में से अब 18 जिलों के कोरोना के केस सामने आ चुके हैं. 

वैश्विक महामारी बन चुका नोवेल कोरोना वायरस (Coronavirus) भारत सहित दुनिया के तमाम देश के लिए चुनौती बनता जा रहा है. इस बीच, कोरोना वायरस के संक्रमितों की संख्या राजस्थान में भी लगातार बढ़ती जा रही है. 

अब राजस्थान में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 191 पहुंच गई है. वहीं, सीएम ने तबलीगी जमात के संपर्क में आने वाले नागरिकों से अपील की है कि वह खुद को छिपाए नहीं और आगे आकर तुरंत अपना परीक्षण कराएं. जिससे और लोगों को इससे बचाया जा सके. इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए है कि प्रदेश के सभी जिलों में रेंडम सर्वे के आधार पर टेस्ट कराएं. इससे रोग की वस्तुस्थिति जानने में मदद मिलेगी. इसमें उन लोगों को भी किया शामिल जाए, जिनकी ट्रैवल हिस्ट्री रही हो और रोग के प्रारंभिक लक्षण हो.

ये भी पढ़ें: राजस्थान में बढ़ रहे कोरोना को लेकर मुस्लिम परिषद संस्थान ने जताई चिंता, CM से कहा... 

सीएम ने यह भी कहा है कि पर्यटकों की आवाजाही वाले स्थानों पर अधिक फोकस किया जाए. मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों से कहा कि पूजा-पाठ, उपासना, नमाज घर पर ही करें. साथ ही, गहलोत ने यह भी कहा कि पूरे देश में लॉकडाउन के बावजूद दिल्ली में ऐसे आयोजन का होना चिंताजनक है. ऐसे आयोजन की जानकारी मिलने पर तुरंत एक्शन लिया जाना चाहिए था.

वहीं, राजस्थान में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते खतरों के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने चिकित्सा मंत्री डॉक्टर रघु शर्मा से प्रदेश के प्रत्येक नागरिक का स्क्रीनिंग कराने के आदेश दिए हैं. इधर, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि कोरोना की रोकथाम के लिए प्रदेश में सीरो सर्विलांस के तहत रैंडम सैंपलिंग की जाएगी. इसके तहत भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) द्वारा मान्यता प्राप्त रैपिड टेस्टिंग किट के जरिए लोगों के रैंडम सैंपल लिए जाएंगे.