हनुमानगढ़ में युवक के सामने ही उजड़ गया परिवार, ट्रक हादसे में बेटी-पत्नी की मौत

दुर्घटना इतनी भीषण थी कि ट्रक तीनों को रौंदता हुआ निकल गया, जिसमें मां-बेटी के क्षत-विक्षत शवों के अवशेष सड़क पर बिखर गए और पति श्योकत का एक पैर बुरी तरह कुचला गया. 

हनुमानगढ़ में युवक के सामने ही उजड़ गया परिवार, ट्रक हादसे में बेटी-पत्नी की मौत
ट्रक की शिनाख्त के लिए टाउन पुलिस आसपास के सीसीटीवी कैमरे खंगालने में जुटी हुई है

मनीष शर्मा, हनुमानगढ़: जिला टाउन में मंगलवार शाम को हुई एक भीषण सड़क दुर्घटना में मां-बेटी की दर्दनाक मौत हो गई जबकि महिला का पति गंभीर रूप से घायल हो गया. 

टाउन में सतीपुरा रोड पर मंगलवार शाम को एक अज्ञात तेज रफ्तार ट्रक ने बाइक सवार परिवार को अपनी चपेट में ले लिया, जिसमें रोडावाली गांव निवासी 35 वर्षीय श्योकत अली गंभीर रूप से घायल हो गया जबकि उसकी पत्नी 32 वर्षीय करसुमा और 2 साल की पुत्री सदीना की मौके पर ही मौत हो गयी. 

दुर्घटना इतनी भीषण थी कि ट्रक तीनों को रौंदता हुआ निकल गया, जिसमें मां-बेटी के क्षत-विक्षत शवों के अवशेष सड़क पर बिखर गए और पति श्योकत का एक पैर बुरी तरह कुचला गया. दुर्घटना के बाद ट्रक चालक ट्रक सहित मौके से फरार हो गया, जिसकी तलाश में टाउन पुलिस जुटी हुई है. ट्रक की शिनाख्त के लिए टाउन पुलिस आसपास के सीसीटीवी कैमरे खंगालने में जुटी हुई है ताकि ट्रक के नम्बरों से ट्रक की पहचान हो सके. 

वहीं, सड़क हादसे के बाद चिकित्सा विभाग की बड़ी लापरवाही भी सामने आई. जब पहले तो 108 एंबुलेंस ही करीब आधा घंटे की देरी से पहुंची और फिर जिला चिकित्सालय जाते समय एंबुलेंस भी रास्ते में खराब हो गई और इसके बाद लंबे इंतजार के बाद जब कोई एंबुलेंस नहीं पहुंची तो आखिर परिजनों ने रोडावाली से निजी वाहन मंगवाया तब गम्भीर घायल को जिला चिकित्सालय पहुंचाया जा सका जबकि घटनास्थल जिला चिकित्सालय से मुश्किल से 2 किलोमीटर से भी कम दूरी पर स्थित है. फिलहाल टाउन पुलिस ने दोनों के शवों को जिला चिकित्सालय की मोर्चरी रखवाया है और फरार अज्ञात ट्रक की तलाश चल रही है.