close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सरकार और गुर्जर आन्दोलनकारियों के बीच बातचीत आज

सब कुछ ठीक रहा तो विशेष कोटे में पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर रेल पटरियों पर बैठे राजस्थान गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैसला और सरकार के बीच आज मध्याह्न बयाना में समझौता बातचीत होगी।

जयपुर : सब कुछ ठीक रहा तो विशेष कोटे में पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर रेल पटरियों पर बैठे राजस्थान गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैसला और सरकार के बीच आज मध्याह्न बयाना में समझौता बातचीत होगी।

भरतपुर संभाग के पुलिस महानिरीक्षक बीजू जोंस और राजस्थान गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के प्रवक्ता हिम्मत सिंह ने यह जानकारी दी। सरकार की ओर से बातचीत में सामाजिक अधिकारिता मंत्री डॉ. अरुण चतुर्वेदी, संसदीय कार्य मंत्री राजेन्द्र राठौड़ तथा खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री हेम सिंह भड़ाना तथा गुर्जर संघर्ष समिति की ओर से 23 सदस्य बयाना में होने वाली बातचीत में शामिल होंगे।

सिंह ने बताया कि सरकार से उनकी बातचीत पचास प्रतिशत आरक्षण के दायरे में पांच प्रतिशत आरक्षण देने की मांग पर केंद्रित रहेगी, सरकार को इस बारे में अपनी स्थिति स्पष्ट करनी होगी कि आरक्षण देगी या नहीं। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार बातचीत के प्रथम चरण को देखते हुए प्रशासनिक एवं सुरक्षा स्तर पर कड़ी तैयारी की गई है। गुर्जर आन्दोलन से निपटने के लिए एहतियात के तौर पर गुर्जर बहुल इलाकों तथा पीलूपुरा के निकट बड़ी संख्या में सुरक्षा बल तैनात किया गया है।

बयाना में सन्नाटा पसरा है। हर जगह पुलिस का पहरा है। क्षेत्र में धारा 144 लागू है। पीलूपुरा ट्रैक पर महापड़ाव डालकर बैठे आंदोलनकारियों ने ट्रैक पर ही बडासा छप्पर और तंबू-शामियाने लगा लिए हैं। रेलवे ट्रैक पर ही लंगर चल रहा है। ट्रैक्टर टालियों में भरकर तरबूज ,ठंडे पेय पदार्थ और अन्य व्यंजन आंदोलनकारियों को ट्रैक पर ही मुहैया कराए जा रहे हैं।

गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैसला ने महापड़ाव में मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए कहा है कि पड़ाव स्थल पर संख्या बढ़ाओ। कम से कम 40 से 50 हजार आंदोलनकारी यहां होने चाहिए, अन्यथा वह ट्रैक छोड़कर चले जाएंगे। बैसला की धमकी के असर को चलते आज बड़ी संख्या में लोगों का पीलूपुरा में जमावड़ा बढ़ने लगा है ।

इधर, भरतपुर -सवाईमाधोपुर के बीच रेल गाड़ियों का संचालन पूरी तरह बंद कर दिया गया है । 21 ट्रेनों का मार्ग बदल दिया गया है तथा पांच ट्रेनें रद्द की गई हैं। बयाना-हिण्डौन मार्ग बंद है। बयाना ,कैलादेवी और हिण्डौन के लिए चलने वाली लगभग 52 रोडवेज बसों को बंद किए जाने से जन-जीवन पूरी तरह ठप हो गया है । गुर्जर बाहुल्य गांव माहोली में रोडवेज बसों में तोड़फोड़ की गई तथा हिंडौन-करौली मार्ग पर गांव गुडला के पास भी बस में तोड़फोड़ किए जाने की सूचना है।