'सरकार पानी तो उपलब्ध करवा नहीं रही, शराब के ठेके खोलकर बढ़ा रही परेशानी'

ठेके के खोले जाने का विरोध करने वाली मुहिम का नेतृत्व महिलाएं कर रही थी. 

'सरकार पानी तो उपलब्ध करवा नहीं रही, शराब के ठेके खोलकर बढ़ा रही परेशानी'
प्रतीकात्मक तस्वीर.

जुगल किशोर, अलवर: शहर के वार्ड नंबर 7 की महिलाओं ने अपने क्षेत्र में शराब का ठेका खोले जाने पर विरोध जताते हुए प्रदर्शन किया. शुक्रवार को महिलाओं को जैसे ही यह भनक लगी कि उनके क्षेत्र में शराब का ठेका खोला जा रहा है, वहां काफी संख्या में क्षेत्र के नागरिक जमा हो गए. 

रोड नंबर दो पर नया ठेकेदार शराब की दुकान खोलने के लिए वाहन में रखकर शराब और अन्य सामान लेकर यहां पहुंचा. नागरिकों ने ठेकेदार और उसके आदमियों को यहां दुकान में शराब नहीं रखने दी. इस पर ठेकेदार ने आबकारी विभाग को सूचना देकर अधिकारियों को मौके पर बुलाया. 

आबकारी अधिकारियों ने भी नागरिकों को ठेका नियमों के तहत खोले जाने को लेकर समझाइश करने का प्रयास लिया लेकिन आक्रोशित नागरिक नहीं मानें. इसके बाद आबकारी विभाग का दल वापस लौट गया. ठेके के खोले जाने का विरोध करने वाली मुहिम का नेतृत्व महिलाएं कर रही थी. इन महिलाओं ने बताया कि क्षेत्र में पहले से ही शराब के दो ठेके खुले हुए हैं. 

अब तीसरा ठेका भी यहां खोलने के प्रयास किए जा रहे हैं. आक्रोशित महिलाओं का कहना है कि सरकार क्षेत्र में पर्याप्त पानी तो उपलब्ध नहीं करा पा रही है जबकि शराब की कई-कई दुकानें यहां खोलकर पूरे इलाके की शांति व्यवस्था भंग करने पर तुली हुई है. महिलाओं ने चेतावनी दी है कि वे यहां किसी भी कीमत पर शराब का और ठेका नहीं खुलने देगी. उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ने पर आंदोलन किया जाएगा.