धौलपुर: महिला सुरक्षा को लेकर प्रशासन की पहल, स्कूलों में दी जा रही सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग

शिविर में पंजीकृत 110 सम्भागी भाग ले रहे है. जिसमें महिलाओं की संख्या लगभग 75 है और पुरूषो की 35 है.  जिनको प्रशिक्षक मीना शर्मा, शबनम खान, स्वप्निल यादव, कांता खटीक द्वारा प्रशिक्षण दिया जा रहा है. 

धौलपुर: महिला सुरक्षा को लेकर प्रशासन की पहल, स्कूलों में दी जा रही सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग
शिविर में ज्यादातर महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जा रहा है.

धौलपुर: राजस्थान के धौलपुर जिले के बाड़ी कस्बे के राजकीय उच्च प्राथमिक विधालय किला में आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया जा रहा है. जिसमें शिक्षिकाओं को आत्मरक्षा के गुर दक्ष प्रशिक्षकों द्वारा सिखाये जा रहे हैं. शिविर में 121 शिक्षक भाग ले रहे हैं. जिसमें अधिकतर महिला शिक्षकों की संख्या है.

एसीबीईओ महेश मंगल ने बताया कि शिविर में ज्यादातर महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जा रहा है. जिन विधालयों में महिला शिक्षक नहीं हैं, वहां पुरुष शिक्षकों को प्रशिक्षित किया जा रहा है. जिससे वह अपने विधालयों की छात्राओं को आत्मसुरक्षा हेतु आत्मनिर्भर बना सके, इसके लिये वह सभी को कॉर्डिनेटर बनाकर फीड बैक भी लेंगे.

शिविर में पंजीकृत 110 सम्भागी भाग ले रहे है. जिसमें महिलाओं की संख्या लगभग 75 है और पुरूषों की 35 है.  जिनको प्रशिक्षक मीना शर्मा, शबनम खान, स्वप्निल यादव, कांता खटीक द्वारा प्रशिक्षण दिया जा रहा है. 

प्रशिक्षण दे रही मीना शर्मा ने कहा कि वर्तमान में समाज मे फैली विकृतियों को देखते हुए महिलाओं व बच्चियों को मानसिक व शारीरिक रूप से मजबूत होना आवश्यक है. जिसको हम लोग विभीन्न गतविधियों के माध्यम से आत्म रक्षा के गुर सीखा रही है.

शिविर में प्रशिक्षण ले रही सम्भागी प्रियंका चंसोरिया व करुणा कुमारी ने बताया कि इस प्रशिक्षण से बच्चो व शिक्षकों की फिजिकल फिटनेस तो बढ़ेगी ही. साथ ही निजी आत्मविश्वास व मानसिक रूप से मजबूती भी मिलेगी. जिससे विपरीत परिस्थितियों का सामना कर अपना बचाव कर सकेंगे.