भीलवाड़ा: होटल में चल रहा था गंदा काम, पुलिस कांस्टेबल बोगस ग्राहक बनकर पहुंचा

भीलवाड़ा के सदर थाना डीएसपी ने नेशनल हाइवे 79 पर एक होटल में संचालित देह व्यापार का खुलासा करते हुए महाराष्ट्र और बंगाल की दो युवतियों के साथ ही तीन युवकों को गिरफ्तार किया है.

भीलवाड़ा: होटल में चल रहा था गंदा काम, पुलिस कांस्टेबल बोगस ग्राहक बनकर पहुंचा
प्रतीकात्मक तस्वीर

दिलशाद खान, भीलवाड़ा: राजस्थान के भीलवाड़ा के सदर थाना डीएसपी ने नेशनल हाइवे 79 पर एक होटल में संचालित देह व्यापार का खुलासा करते हुए महाराष्ट्र और बंगाल की दो युवतियों के साथ ही तीन युवकों को गिरफ्तार किया है.

ये भी पढ़ें: गणेश चतुर्थी पर भी कोरोना का साया, सोने-चांदी के खरीद उत्साह में दिखी कमी

एसपी प्रीति चंद्रा ने बताया कि डीएसपी सदर रामेश्वर प्रसाद को 21 अगस्त को रात करीब 11 बजे मुखबिर से सूचना मिली कि नेशनल हाइवे 79 पर स्थित होटल सरपंच जो कि देवली के पूर्व सरपंच अशोक चौधरी की है. जिसे अंकुर शर्मा को किराए पर दी हुई है. इस होटल में  देहव्यापार का कार्य किया जा रहा है. कार्यवाही की स्वीकृति लेने के बाद डीएसपी ने पुर थाने के एक कांस्टेबल को बोगस ग्राहक के रूप में 500 रुपये का नोट देकर होटल पर भेजा. 

साथ ही डीएसपी भी मय टीम के प्राइवेट वाहन से होटल के पास पहुंचे और बोगस ग्राहक के कॉल का इंतजार करने लगे. इसी दौरान मिस्ड कॉल आने पर डीएसपी टीम सहित होटल सरपंच पहुंचे, जहां प्रथम मंजिल पर एक युवक मिला, जो पुलिस को देखकर भागने लगा. पुलिस ने घेरा डालकर उसे पकड़ा और पूछताछ की तो उसने खुद को दलाल और रायपुर निवासी निलेश ओझा होना बताया. इसके बाद पुलिस ने एक कमरे की तलाशी ली, जिसमें बोगस ग्राहक एक महिला के साथ मिला. 

पुलिस ने महिला को पकड़ा और पूछताछ की तो उसने खुद को उल्लासनगर महाराष्ट्र निवासी बताया. पुलिस ने महिला कांस्टेबल के सहयोग से तलाशी ली तो महिला के पास बोगस ग्राहक द्वारा दिये 500 रुपये, उसके पर्स से गर्भनिरोधक गोलियां मिली. इसके अलावा वेस्ट बंगाल की एक अन्य युवती के साथ गाडरीखेड़ा, गांधी नगर का कमलेश सोनी व रायपुर का विकास खटीक मिला. 

पुलिस ने दलाल निलेश के साथ ही दोनों युवतियों, विकास व कमलेश को गिरफ्तार कर लिया.। डीएसपी की रिपोर्ट पर पुर थाने में अनैतिक देह व्यापार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया, जिसकी जांच डीएसपी शहर भंवर रणधीर सिंह को सौपी गई. इस कार्रवाई में डीएसपी के साथ पुर थाना प्रभारी नंद सिंह, एएसआई साबिर मोहम्मद, मनीष कुमार व महिला कांस्टेबल शामिल थे.

ये भी पढ़ें: राजस्थान के इन जिलों में 5 दिन होने वाली है झमाझम बारिश, मौसम विभाग ने दी चेतावनी