डूंगरपुर के इस अस्पताल में जिला अधिकारी ने किया औचक निरीक्षण, फिर...

औचक निरीक्षण के दौरान कलेक्टर कानाराम ने पीएमओ से निशुल्क दवा योजना व जांच योजना के सम्बन्ध में जानकारी ली. 

डूंगरपुर के इस अस्पताल में जिला अधिकारी ने किया औचक निरीक्षण, फिर...
जिलाअधिकारी ने अस्पताल की व्यस्थाओं पर सवाल खड़े किए.

डूंगरपुर: राजस्थान के डूंगरपुर जिला कलेक्टर कानाराम ने जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण करते हुए अस्पताल की व्यवस्थाओं का जायजा लिया. इधर, नव नियुक्त कलेक्टर के अचानक अस्पताल के दौरे पर आने से चिकित्साकर्मियों में हडकंप मच गया.

कलेक्टर कानाराम ने फीमेल मेडिकल वार्ड में एक ही बेड पर दो-दो महिलाओं को भर्ती देख कर इसे गलत बताया. पीएमओ डॉ कांतिलाल को अतिरिक्त बेड लगाने के लिए पाबन्द किया. वहीं, मेल मेडिकल वार्ड में इसके उलट कई बेड खाली मिले तो कलेक्टर ने व्यस्थाओं पर सवाल खड़े किए. उन्होंने कहा कि जहां जरूरत हो उसके अनुसार बेड लगाए जाएं. 

कलेक्टर ने डूंगरपुर के एमसीएच हॉस्पिटल में देखा कि 450 मरीजो का रजिस्ट्रेशन एक ही काउंटर पर करने को भी गलत बताया और अतिरिक्त काउंटर लगाने के आदेश दिये. अस्पताल के प्रत्येक वार्ड में जाकर वहा पर मरीजों की व्यवस्थाओ व साफ-सफाई की व्यवस्थाओं को देखा. इस दौरान कलेक्टर ने जिला अस्पताल में दिखाने आये व भर्ती मरीजों से संवाद करते हुए उनकी परेशानी जानी ओर चिकित्साधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए.

इधर, अपने निरीक्षण के दौरान कलेक्टर कानाराम ने पीएमओ से निशुल्क दवा योजना व जांच योजना के सम्बन्ध में जानकारी ली. वहीं, कलेक्टर ने चिकित्साधिकारियों को अस्पताल में भर्ती व दिखाने आने वाले मरीजो के प्रति गंभीरता व संवेदनशीलता बरतते हुए उनका इलाज व उपचार करने के निर्देश दिए.