कोटा: सामूहिक विवाह में दहेज के नाम पर लाखों की उगाही करती है ये महिला, फंस चुके 3 हजार लोग

ये शातिर महिला इस तरह का सारा काम फोन पर ही करती है, सामने नहीं आती है. वह अब तक करीब 3 हजार शादियां इस तरह के विवाह सम्मेलनों में करा चुकी है. 

कोटा: सामूहिक विवाह में दहेज के नाम पर लाखों की उगाही करती है ये महिला, फंस चुके 3 हजार लोग
कन्हैयालाल जांगिड़ ने गुमानपुरा थाने में जरिए कोर्ट एक मुकदमा दर्ज करवाया.

कोटा: शहर के गुमानपुरा थाना पुलिस ने सामूहिक विवाह के नाम पर पैसे लेकर धोखाधड़ी करने वाली महिला को गिरफ्तार किया है. महिला पर आरोप है कि वो शादी करवाने और दहेज देने के नाम पर पैसे तो लेती है पर कोई सामान नहीं देती है. इस शातिर महिला के खिलाफ अन्य थानों में भी मामला दर्ज है.

पुलिस की पड़ताल में सामने आया है कि आरोपी महिला 'गायत्री सर्व समाज फाउंडेशन' के नाम से एक संस्था को चलाती है और खुद को समाज सेविका बताती है. महिला अकेली ही इस तरह की धोखाधड़ी की गैंग को संचालित करती है. ये महिला लोगों को झांसे में लेकर उनके विवाह तो करवा देती है, लेकिन जो विवाह और दहेज देने के नाम पर पैसे तो लेती है पर समान कुछ भी नहीं देती है. 

जानकारी के अनुसार, कन्हैयालाल जांगिड़ ने गुमानपुरा थाने में जरिए कोर्ट एक मुकदमा दर्ज करवाया. इसमें परिवादी ने बताया कि उसकी बेटी की शादी के लिए एक लाख रुपये जांगिड़ ब्राह्मण समाज सामूहिक विवाह सम्मेलन को उसने दिए थे. इसके बदले शादी के दौरान मोटरसाइकिल, मंगलसूत्र, नाक की बाली, चांदी की पायजेब, चांदी की चिटकी, चूड़ी सेट, टीवी, डबल बेड, कूलर, अलमारी, चौकी, बक्सा, ड्रेसिंग टेबल, सेंटर टेबल, गद्दा, कंबल, तकिया, 11 बर्तन और शादी का जोड़ा देना था.

इस दौरान मार्च महीने में उनकी बेटी की शादी तो करवा दी गई लेकिन दहेज और जो सामान शादी में देने का वादा किया गया था, वह नहीं दिया गया. जब सामान मांगा गया तो महिला ने मना कर दिया गया कि इस तरह का कोई सामान हम नहीं देंगे.

dowry fraud by gayatri sarv samaj foundation in mass marriage in kota

क्या कहना है पुलिस का
पुलिस का कहना है कि आरोपी महिला गायत्री देवी विश्वकर्मा काफी शातिर है. उसने अपने साथ तीन-चार महिलाओं को रखा हुआ है जो कि अपने घरवालों से प्रताड़ित हैं. वहीं, ये शातिर महिला इस तरह का सारा काम फोन पर ही करती है, सामने नहीं आती है. वह अब तक करीब 3 हजार शादियां इस तरह के विवाह सम्मेलनों में करा चुकी है. 

साथ ही उसके खिलाफ धोखाधड़ी के इस तरह के कई मामले दर्ज हैं, जिनमें से जयपुर के ट्रांसपोर्ट नगर, माणक चौक, चाकसू और कोटा के गुमानपुरा थाने में दर्ज है. ऐसे में गुमानपुरा थाना पुलिस ने बूंदी जिले से गायत्री देवी विश्वकर्मा को गिरफ्तार कर लिया है.

अब पुलिस आरोपी महिला से पूछताछ कर इसके और काले कारनामों की तलाश कर रही है कि आख़िर शादी के नाम पर उगाही का खेल कब से चल रहा था और कहां-कहां पर इसके ठगी के शिकार है, जो इसके जाल में फंस चुके हैं.