डूंगरपुर पंचायत समिति चुनाव में दांव पर कांग्रेस की प्रतिष्ठा, BJP के लिए किला ढहाना होगी चुनौती

डूंगरपुर पंचायत समिति में अब तक 10 प्रधान रहे हैं और सभी कांग्रेस के ही रहे हैं. इसमें 21 साल तक भानजी भाई प्रधान रहे हैं. वहीं, जनवरी 1993 से जनवरी 1995 तक प्रशासक काल रहा था. 

डूंगरपुर पंचायत समिति चुनाव में दांव पर कांग्रेस की प्रतिष्ठा, BJP के लिए किला ढहाना होगी चुनौती
डूंगरपुर पंचायत समिति चुनाव में कांग्रेस-BJP के बीच कड़ा मुकाबला है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

अखिलेश शर्मा/डूंगरपुर: डूंगरपुर जिले में पंचायत चुनाव चार चरणों में 23 नवंबर से शुरू होने जा रहे हैं. इसी के तहत डूंगरपुर पंचायत समिति की 21 सीटो पर 23 नवंबर को मतदान होगा. इधर, पहले चरण के चुनाव को लेकर राजनैतिक दलों का प्रचार चरम पर है. वही पहले चरण में होने वाले चुनाव में डूंगरपुर पंचायत समिति पर कांग्रेस पार्टी की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है.

आजादी के बाद से ही डूंगरपुर पंचायत समिति पर कांग्रेस का कब्जा रहा है . ऐसे में जहा कांग्रेस अपनी इस प्रतिष्ठा को कायम रखना चाह रही है तो वहीं, भारतीय जनता पार्टी कांग्रेस के इस गढ़ को गिराने के लिए अपना पूरा दम खम लगा रही है. दरअसल, डूंगरपुर पंचायत समिति में अब तक 10 प्रधान रहे हैं और सभी कांग्रेस के ही रहे हैं. इसमें 21 साल तक भानजी भाई प्रधान रहे हैं.

वहीं, जनवरी 1993 से जनवरी 1995 तक प्रशासक काल रहा था. इधर, एक बार फिर से पंचायत समिति सदस्यों का चुनाव है. ऐसे में कांग्रेस जहां डूंगरपुर पंचायत समिति पर अपना कब्जा बरकार रखने के लिए पूरा प्रयास कर रही है तो वहीं, भाजपा इस बार कांग्रेस के गढ़ को गिराते हुए रिकॉर्ड तोड़ने में जुटी है.

आइये बताते है कब-कब और कौन-कौन डूंगरपुर पंचायत समिति का प्रधान रहा है:

प्रधान                                               कार्यकाल                                     पार्टी
अमृतलाल परमार                     अक्टूबर 1959 से जनवरी 1962              कांग्रेस
हकरा भाई                              फरवरी 1962 से जनवरी 1965                कांग्रेस
अमृतलाल परमार                     फरवरी 1965 से फरवरी 1967               कांग्रेस
भानजी भाई                            फरवरी 1967 से दिसम्बर 1981              कांग्रेस
चंद्रलाल अहारी                       दिसंबर 1981 से फरवरी 1985                कांग्रेस
भानजी भाई                            फरवरी 1985 से दिसंबर 1992                कांग्रेस
प्रशासक काल                        जनवरी 1993 से जनवरी 1995                 प्रशासक     
सूरज देवी कोटेड                    फरवरी 1995 से जनवरी 2000                 कांग्रेस
पूंजीलाल परमार                     फरवरी 2000 से फ़रवरी 2005                 कांग्रेस
मंजुला देवी                            फरवरी 2005 से जनवरी 2015                 कांग्रेस
लक्ष्मण कोटेड                        फरवरी 2015 से 2020 तक                     कांग्रेस

इधर, पंचायतीराज चुनाव 2020 के तहत 23 नवंबर को डूंगरपुर पंचायत समिति की 21 सीटो पर मतदान होना है. डूंगरपुर पंचायत समिति की 21 सीटो पर कांग्रेस व भाजपा के बीच सीधा मुकाबला है. वहीं, कुछ सीटो पर बीटीपी समर्थित निर्दलीय उम्मीदवार मैदान में उतरकर कांग्रेस व भाजपा का गणित बिगाड़ रहे हैं. हलाकि, कांग्रेस व भाजपा के नेता डूंगरपुर पंचायत समिति में अपना बोर्ड बनाकर प्रधान बनाने का दावा कर रहे हैं.

कांग्रेस पार्टी जहां सरकार की कल्याणकारी योजनाओं व नीतियों के भरोसे चुनावी मैदान में है. वहीं, भाजपा कांग्रेस सरकार की नाकामियों को लेकर चुनावी मैदान में अपना भाग्य आजमा रही है. बहरहाल, डूंगरपुर पंचायत समिति की 21 सीटो पर 23 नवंबर को मतदान होना है. वहीं, कांग्रेस व भाजपा दोनों पार्टियों के उम्मीदवार व नेता चुनाव प्रचार में जुटे हैं. इधर, दोनों पार्टियों के नेता अपनी-अपनी जीत के दावे भी कर रहे हैं.