राजस्थान: भीलवाड़ा पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, तीन सौ से ज्यादा धारदार हथियार बरामद

 भीलवाड़ा जिले के प्रतापनगर थाना की पुलिस ने एक ट्रेवेल बस से जांच के दौरान तीन सौ से ज्यादा धारदार हथियार बरामद किया है.

राजस्थान: भीलवाड़ा पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, तीन सौ से ज्यादा धारदार हथियार बरामद
भीलवाड़ा पुलिस ने ट्रेवेल बस से बरामद किया अवैध हथियार (फाइल फोटो)

भीलवाड़ा: राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव और पंजाब में हुए आतंकी घटना के बाद जारी अलर्ट के बीच राजस्थान की भीलवाड़ा पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है. भीलवाड़ा जिले के प्रतापनगर थाना की पुलिस ने एक ट्रेवेल बस से जांच के दौरान तीन सौ से ज्यादा धारदार हथियार बरामद किया है. पुलिस ने इस मामले में तीन बस कर्मचारियों के साथ गंगरार निवासी हथियार के खरीददार को भी गिरफ्तार किया है. आपको बता दें कि, ये हथियार अहमदाबाद से भीलवाड़ा लाया जा रहा था.

इस मामले की जानकारी देते हुए भीलवाड़ा के एडिशनल एफएसटी इंचार्ज रूपेश कुमार कलावत ने बताया कि गुरूवार सुबह गुजरात से भीलवाड़ा आ रही जाखड़ ट्रैवेल्स की तलाशी के दौरान 293 अवैध हथियार बरामद किया गया. जिसमें 143 तलवारें, 46 गुप्ती, 57 चाकू और 57 कटार  शामिल है. इस मामले में पुलिस ने बस ड्राईवर जोधपुर के मथानिया निवासी विक्रम सिंह चारण, कंडक्टर बिकोडाई जैसलमेर निवासी देबीसिंह भाटी, खलासी नोखा पाली निवासी दीपक चारण को गिरफ्तार किया है. वहीं बाद में पुलिस ने इन हथियारों की डिलेवरी लेने पहुंचे गंगरार चित्तौड़ निवासी परमानंद सिकलीघर को भी गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ में यह बात सामने आई कि ये हथियार गुजरात के गांधी धाम से बस में रखवाए गए थे. पुलिस गिरफ्तार चारों आरोपियों से पूछताछ कर रही है.


विधानसभा चुनाव के पहले केंद्रीय बलों का फ्लैग मार्च (प्रतीकात्मक फोटो)

आपको बता दें कि, विधानसभा चुनाव को देखते हुए दौरान कानून और शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए राजस्थान पुलिस राज्य के कई जिलों में तलाशी अभियान चला रही है. जिस दौरान राज्य के कई भागों से अवैध हथियार के अलावा पोस्त भी बरामद हुआ है. इसके साथ ही लाईसेंसी हथियारों को थाने में जमा भी करवाया जा रहा है. वहीं शांतिपूर्ण मतदान कराने के लिए राज्य के कई जिलों मे राज्य पुलिस केंद्रीय सुरक्षा बलों के साथ फ्लैग मार्च भी कर रही है.