close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जोधपुर में हाई कोर्ट को निर्देश के बाद जोहड़ पायतन से हटाए गए अतिक्रमण

उपखण्ड़ अधिकारी सुखाराम पिण्ड़ेल ने बताया कि 34 अतिक्रमणकारियों को पूर्व में अतिक्रमण हटाने के लिए छह सप्ताह का समय दिया गया था.

जोधपुर में हाई कोर्ट को निर्देश के बाद जोहड़ पायतन से हटाए गए अतिक्रमण
फाइल फोटो

जौधपुर: उच्च न्यायालय के आदेश की अवमानना में दंडित किए जाने के आदेश के बाद सक्रिय हुआ प्रशासन शुक्रवार को भारी पुलिस जाप्ते के साथ छानीबड़ी उपतहसील पहुंचा और अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही शुरू की. मजिस्ट्रेट सुखाराम पिण्ड़ेल के नेतृत्व में की गई इस कार्यवाही में प्रशासन ने भारतीय स्टेट बैंक के पीछे स्थित प्राचीन जोहड़ के पास पालूराम बैनीवाल द्वारा किए गए अतिक्रमण को हटाया, तत्तपश्चात प्रशासन ने जोहड़ के दूसरे छोर पर स्थित जोहड़ की भूमि पर बनाए गए पक्के अतिक्रमणों को जेसीबी मशीन की सहायता से ध्वस्त कर दिया. प्रशासन ने छानीबड़ी ग्राम पंचायत मुख्यालय पर चार प्राचीन जोहड़ की भूमि पर अतिक्रमण कर बनाए गए पक्के और कच्चे मकानों को ध्वस्त कर दिया. हांलाकि, इस दौरान अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही को देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हो गए परन्तु इस दौरान प्रशासन को कहीं भी विरोध का सामना नही करना पड़ा.

उपखण्ड़ अधिकारी सुखाराम पिण्ड़ेल ने बताया कि 34 अतिक्रमणकारियों को पूर्व में अतिक्रमण हटाने के लिए छह सप्ताह का समय दिया गया था. परन्तु उनके द्वारा अतिक्रमण नहीं हटाए जाने पर प्रशासन ने अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही की है. उन्होंने बताया कि लगभग सभी चौतीस अतिक्रमणों को प्रशासन ने हटा दिया है. उधर हाईकोर्ट में याचिका लगाने वाले ईश्वर नायक ने प्रशासन की इस कार्यवाही को भेदभाव पूर्ण बताते हुए कहा कि पालूराम बैनीवाल ने जोहड़ के काफी भाग पर अतिक्रमण कर रखा है परन्तु प्रशासन ने उसके अतिक्रमण हटाने के नाम पर खानापूर्ति की है.

प्रशासन की अतिक्रमण हटाने की इस कार्यवाही मे तहसीलदार जीतूसिंह मीणा, नायब तहसीलदार भादरा धर्मेन्द्र जांदू, नायब तहसीलदार छानीबड़ी जगदीश मीणा, डीएसपी नोहर अतरसिंह पूनिया, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र मीणा, भादरा थानाअधिकारी पुष्पेन्द्र झाझडिय़ा, गोगामेड़ी थानाअधिकारी महेन्द्र मीणा, भिरानी थानाअधिकारी नवदीपसिंह , जलदाय विभाग के सहायक अभियंता प्रेमप्रकाश खत्री, विधुत विभाग के सहायक अभियंता आशुतोष पाण्ड़े, ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ राजेन्द्र भंवरिया, नगरपालिका के सफाई निरीक्षण विनोद सोनी अपनी पूरी टीम के साथ शामिल थे. अतिक्रमण हटाने की इस कार्यवाही के लिए जिला मुख्यालय से एक सौ पुरूष और तीस महिला पुलिस का अतिरिक्त जाप्ता मंगवाया गया था. किसी भी आपात स्थति से निपटने के लिए एम्बुलेंस के साथ नोहर और भादरा के अग्निशमन वाहन भी मौके पर मौजूद रहे.