राजस्थान में हर व्यक्ति की सेहत का डाटा होगा ऑनलाइन, सरकार ने शुरु की योजना

गहलोत सरकार की ओर से डिजिटल हेल्थ सर्वे शुरू किया गया है. यह सर्वे राजस्थान के हेल्थ सेक्टर की दिशा में अभिनव पहल के रूप में सामने आया है.

राजस्थान में हर व्यक्ति की सेहत का डाटा होगा ऑनलाइन, सरकार ने शुरु की योजना
सरकार ने राज्य स्तर पर मॉनिटरिंग सेल का गठन किया गया है.

जयपुर: राजस्थान की गहलोत सरकार की मंशा है कि प्रदेश सेहत के क्षेत्र में देश भर में अलग पहचान बनाए. इसी सोच को धरातल पर उतारने के लिए सरकार की ओर से डिजिटल हेल्थ सर्वे शुरू किया गया है. यह सर्वे राजस्थान के हेल्थ सेक्टर की दिशा में अभिनव पहल के रूप में सामने आया है. पूरी सेहत की सूचना को ऑनलाइन करने के लिए ई-स्वास्थ्य एप के जरिए पायलेट प्रोजेक्ट शुरू किया गया है.

जानकारी के अनुसार सरकार की इस योजना के तहत चिकित्सा विभाग एक तरफ जहां लोगों की सेहत की तस्वीर ऑनलाइन करने में लगा है, वहीं दूसरी ओर केन्द्र और राजस्थान सरकार की तरफ से चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं की मॉनिटरिंग भी सेन्ट्रलाइज्ड सिस्टम से शुरू कर दी गई है. इसके लिए बकायदा राज्य स्तर पर मॉनिटरिंग सेल का गठन किया गया है. 

खबर के मुताबिक, यह सेल योजनावार हर सूचना को ऑनलाइन अपडेट रखेगी. इसके साथ ही यह कोशिश रहेगी की फील्ड में मौजूद चिकित्साकर्मियों को अलग अलग सूचनाओं के लिए बार बार घर-घर दस्तक न देनी पड़े. योजना के मुताबिक पहले चरण में राजस्थान के दो ब्लॉक गोविन्दगढ़ और श्रीमाधोपुर में सफल पायलेट प्रोजेक्ट का शुरूआत होगी. जिसमें आशा सहयोगियों और एएनएम के जरिए मोबाइल एप पर हर घर का डेटा एकत्र किया गया है. जिसमें सेहत से जुड़ी करीब 250 से अधिक सूचनाओं  का डेटा एकत्र किया गया है.

जानकारी के अनुसार जोधपुर, अजमेर, सीकर, उदयपुर और सिरोही जिलों में एक साथ शुरू किया जा रहा है एक अप्रैल से पूरे राजस्थान में एक साथ डिजिटलाइजेशन का यह अभियान शुरू होगा.