कोटा: नहरी पानी नहीं मिलने से परेशान किसानों का फूटा गुस्सा, अयाना मार्ग पर लगाया जाम

इटावा में अयाना क्षेत्र में नहरों में पर्याप्त जल प्रवाह नहीं होने के कारण खेत सूखे पड़े हैं. किसानों की फसल सूख रही है. 

कोटा: नहरी पानी नहीं मिलने से परेशान किसानों का फूटा गुस्सा, अयाना मार्ग पर लगाया जाम
सीएडी विभाग पर ताला लगा देखकर किसान कार्यालय के बाहर ही धरने पर बैठ गए.

हेमंत, कोटा: नहरी पानी नहीं मिलने से परेशान जिले की किसानों का सब्र शनिवार को फूट पड़ा. इटावा में किसानों ने अयाना मुख्य मार्ग पर जाम लगा दिया. इससे बारां-मथुरा मार्ग बाधित हो गया. वहीं, सुल्तानपुर में भी किसानों ने सीएडी विभाग के दफ्तर में धरना देकर बैठ गए. किसानों ने यहां भी सड़क जाम करने की कोशिश की.

दरअसल, इटावा में अयाना क्षेत्र में नहरों में पर्याप्त जल प्रवाह नहीं होने के कारण खेत सूखे पड़े हैं. किसानों की फसल सूख रही है. किसानों ने अयाना मुख्य मार्ग पर जाम लगा दिया है. जिससे बारां-मथुरा मार्ग अवरुद्ध हो गया. मौके पर अयाना एसएचओ राजेंद्र मीणा मौके पर पहुंचे हैं. किसानों से समझाईश की गई लेकिन किसान नहीं मानें. इससे सड़क पर वाहनों की कतारें लग गई. 

सुल्तानपुर क्षेत्र में भी टेल क्षेत्र में किसानों को नहरी पानी नहीं मिलने से फसल सूखती देख आखिरकार शनिवार को किसानों का धैर्य जवाब दे गया. बड़ी संख्या में टेल क्षेत्र के किसान यहां ट्रैक्टर-ट्रॉली भरकर सुल्तानपुर सीएडी कार्यालय पहुंचे, जहां पर उन्होंने सीएडी विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. 

इस दौरान यहां सीएडी विभाग पर ताला लगा देखकर किसान कार्यालय के बाहर ही धरने पर बैठ गए. करीबन 2 घंटे तक यहां किसान नारेबाजी के साथ पानी की मांग करते रहे लेकिन किसी भी जिम्मेदार अधिकारी कर्मचारी ने आकर किसानों की सुध तक नहीं ली. ऐसे में किसान नाराज हो उठे और सड़क पर जाकर प्रदर्शन करने लगे.