close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

फारुख अब्दुल्ला ने अजमेर शरीफ में की जियारत, मांगी अमन की दुआ

नेशनल कांफ्रेस नेता और जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम अब्दुल्ला ने सूफी संत ख्वाजा साहब की दरगाह पर देश में फिरकापरस्ती और हिन्दू-मुस्लिम विवाद से दूर रहने की दुआ करने की बात कही.

फारुख अब्दुल्ला ने अजमेर शरीफ में की जियारत, मांगी अमन की दुआ
मंगलवार को फारुख अब्दुल्ला अजमेर में थे.

अजमेर: जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला ने मंगलवार को अजमेर में ख्वाजा मोईद्दीन की दरगाह में जियारत करने पहुंचे थे. इस दौरान अब्दुल्लाह ने पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ की और कश्मीर समस्या के समाधान के लिए उनके उठाये जा रहे कदमों को सकारात्मक बताया. उन्होंने पीएम के कश्मीर समस्या के समाधान के लिए उठाये जा रहे कदमों के कामयाबी की दुआ करने की बात भी कही. 

वैसे तो नेशनल कांफ्रेस नेता और जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम मोदी का अब्दुल्ला विरोध जगजाहिर है. लेकिन मंगलवार जब वो अजमेर स्थित सूफी संत ख्वाजा मोईनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह पहुंचे तो उनके सुर बदले हुए थे. 

इस दौरान उन्होंने मीडिया से बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफों में कसीदे भी पढ़ें. अब्दुल्लाह ने पीएम मोदी द्वारा कश्मीर समस्या के समाधान के लिए किये जा रहे प्रयासों को सकारात्मक करार दिया. इस दौरान उन्होंने मोदी का अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप से कश्मीर समस्या के समाधान को लेकर बात करने के लिए आभार भी जताया. 

बातचीत के दौरान उन्होंने आशा जताई की जिस तरह पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने ताशकंद में कश्मीर समस्या के समाधान का प्रयास किये था और उसके सकारात्मक परिणाम सामने आये थे. उसी तरह एक दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयास भी रंग लाएगा. 

लाइव टीवी देखें:

उन्होंने कहा कि आज वे सूफी संत ख्वाजा साहब की दरगाह पर देश में फिरकापरस्ती और हिन्दू-मुस्लिम विवाद से दूर रहने की दुआ की है. साथ ही कश्मीर पिछले 70 साल से जिस दर्द को भुगत रहा है, उसका भी समाधान हो.