कोटा: 1 दिसंबर से टोल से नहीं गुजर सकेंगे बिना फास्ट टैग वाले वाहन, देना होगा दोगुना चार्ज

एक दिसंबर से टोल से गुजरते समय अगर आपकी गाड़ी पर फास्ट टैग नहीं लगा हुआ तो आप को दोगुने चार्ज के साथ जुर्माना देना होगा और फिर उसके बाद टोल प्लाज़ा से गुज़र सकेंगे. शुरुआती दौर में लोगों की सहूलियत के लिए टोल प्लाज़ा पर सिर्फ़ एक कैश काउंटर रखा जाएगा लेकिन बाद में इन्हें भी बंद कर दिया जाएगा.

कोटा: 1 दिसंबर से टोल से नहीं गुजर सकेंगे बिना फास्ट टैग वाले वाहन, देना होगा दोगुना चार्ज
प्रतीकात्मक तस्वीर.

हिमांशु मित्तल, कोटा: सड़क परिवहन ओर राजमार्ग मंत्रालय देश भर के टोल प्लाजा एक दिसंबर से कैश लेस बनाने जा रहा है, जिसके बाद जिन वाहनों पर फास्ट टैग लगा होगा, फिर वही टोल से गुज़र पाएंगे. बिना फास्ट टैग लगे वाहनों को दोगुना जुर्माना देना होगा. उसके बाद ही उन्हें टोल से गुजरने दिया जाएगा.

एक दिसंबर से टोल से गुजरते समय अगर आपकी गाड़ी पर फास्ट टैग नहीं लगा हुआ तो आप को दोगुने चार्ज के साथ जुर्माना देना होगा और फिर उसके बाद टोल प्लाज़ा से गुज़र सकेंगे. शुरुआती दौर में लोगों की सहूलियत के लिए टोल प्लाज़ा पर सिर्फ़ एक कैश काउंटर रखा जाएगा लेकिन बाद में इन्हें भी बंद कर दिया जाएगा.

आपको बता दें कि टोल प्लाज़ा पर लगने वाले जाम को ख़त्म करने, तेल की खपत और वाहनों से निकलने वाले धुएं से हो रहे वायु प्रदूषण को रोकने के लिए कैश लेस इलेक्ट्रिक टोल कलेक्शन सिस्टम फ़ास्ट टैग की शुरुआत होने जा रही है. एनएचएआई (NHAI) के परियोजना निदेशक विरेंद्र सिंह बताया कि पांच साल की कोशिशों के बावजूद अब तक सिर्फ़ 20 फ़ीसदी वाहन मालिकों ने ही फास्ट टैग का इस्तेमाल शुरू किया. अब सरकार एक दिसंबर से इसे अनिवार्य कर रही है.

एनएचएआई (NHAI) के प्रोजेक्ट डायरेक्टर वीरेंद्र सिंह ने बताया कि उन्होंने फास्ट टैग की तैयारी शुरू कर दी है, जिसके तहत 11 नवंबर से कोटा के सभी टोल पर दो फास्ट टैग लेन शुरू कर दी गई है. यहां पर कैश में टोल नहीं लिया जा रहा है. वर्तमान में केवल एक फास्ट टैग लेन है, जिसमें भी कैश काउंटर साथ में संचालित होता है. इसके साथ ही 1 दिसंबर से एक को छोड़कर सभी लेन फास्ट टैग होगी, जिसके कारण नगद भुगतान वाली लाइन में लंबी कतारें भी लगेगी
तो अगर आप अपनी जेब ढीली नहीं करवाना चाहते हैं तो हाईवे पर टोल से गुज़रने के लिए पहले ही अपनी गाड़ी में फ़ास्ट टैग लगवा लें ताकि आपको दोगुना जुर्माना न देना पड़े.