बाड़मेर: किसानों का आंदोलन ले रहा उग्र रूप, निकाली गई बड़ी रैली

भारतीय किसान संघ राजस्थान प्रदेशभर में तहसील व उपखंड स्तर पर किसानों की बिजली बिल माफी व अनुदान, फसल बीमा क्लेम, सहकारी ऋण विभिन्न मांगों को लेकर 5 अगस्त से अनिश्चित कालीन धरना प्रदर्शन अब उग्र आंदोलन का रूप लेता जा रहा है. 

बाड़मेर: किसानों का आंदोलन ले रहा उग्र रूप, निकाली गई बड़ी रैली
रैली में किसानों ने आरोप लगाया की किसानों को खुशहाल करने के वादे के शासन में आई सरकार होटलों में मौज मस्ती मे व्यस्त है

भूपेश आचार्य, बाड़मेर: भारतीय किसान संघ राजस्थान प्रदेशभर में तहसील व उपखंड स्तर पर किसानों की बिजली बिल माफी व अनुदान, फसल बीमा क्लेम, सहकारी ऋण विभिन्न मांगों को लेकर 5 अगस्त से अनिश्चित कालीन धरना प्रदर्शन अब उग्र आंदोलन का रूप लेता जा रहा है. इसी क्रम में बाड़मेर जिले के गुड़ामालानी उपखंड मुख्यालय पर दसवें दिन भी सरकार द्वारा कोई सकारात्मक बातचीत नहीं होने से आक्रोशित हजारों किसानो ने कृषि उकरण कुदाल, बई , कुल्हाड़ी सहित अन्य कृषि उपकरण लेकर सड़कों पर उतरे और रैली निकाल कर प्रदर्शन किया.

ये भी पढ़ें: राजस्थान विधानसभा में लंबा है विश्वास-अविश्वास मत का इतिहास, जानें कब कौन हुआ चित्त?

उनकी सरकार को जायज मांगों का समाधान करने की मांग की और चेतावनी दी कि समय रहते सरकार सकारात्मक प्रयास नहीं करती है तो किसानों को सब्जी, दुध की आपूर्ति बंद कर दी जायेगी और आंदोलन को तेज किया जायेगा. 

रैली में किसानों ने आरोप लगाया की किसानों को खुशहाल करने के वादे के शासन में आई सरकार होटलों में मौज मस्ती मे व्यस्त है और किसानों पर बिजली विभाग से पेनल्टीया वसुल कर लुट रही है और हर किसानों का शौषण हो रहा है जो अब स्वीकार नहीं किया जा सकता है. 

रैली में भारतीय किसान संघ जिलामंत्री प्रहलाद सियोल, जिला उपाध्यक्ष हरदा राम चौधरी, तहसील अध्यक्ष कृष्ण कुमार कलबी, तहसील मंत्री खेताराम सियाग, मोहनलाल ईशरवाल, किशनाराम सियाक, हरदा राम, गोविन्द विशनोई लुणवा  चेनाराम, देवाराम, जिया राम भगाराम गौभक्त सहित हजारों किसान शामिल हुए.

ये भी पढ़ें: राजस्थान में गहलोत सरकार का बड़ा कदम, अब मोबाइल OPD वैन के जरिए मिलेंगी फ्री दवाएं