राजस्थान: कवर पेज से जौहर का फोटो हटाने के मुद्दे पर कांग्रेस के मंत्री और नेता आपस में ही भि‍ड़े

गहलोत सरकार के गठन के बाद राज्य के शिक्षा बोर्ड की किताबों में बदलाव के दौरान किताबों की कवर पेज से जौहर का चित्र हटाने को लेकर बीजेपी के बाद कांग्रेस के नेताओं के बीच भी आपसी मतभेद दिख रहा है.

राजस्थान: कवर पेज से जौहर का फोटो हटाने के मुद्दे पर कांग्रेस के मंत्री और नेता आपस में ही भि‍ड़े
किताब की कवर पेज के साथ शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा.

जयपुर: राज्य में गहलोत सरकार के गठन के बाद राज्य के शिक्षा बोर्ड की किताबों में बदलाव जारी है. किताबों की कवर पेज से जौहर का चित्र हटाने को लेकर विवाद थमता नहीं दिख रहा. इस मुद्दे पर बीजेपी के बाद कांग्रेस के नेताओं के बीच भी आपसी मतभेद दिख रहा है.

जहां कांग्रेस नेता गोपाल सिंह ईडवा ने राज्य के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा को इस मामले में अपनी जानकारी दुरुस्त करने की नसीहत दी है. वहीं, परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा है कि किसी मंत्री के बदलने से इतिहास नहीं बदल जाता. बीजेपी के बाद राज्य की सत्ताधारी दल के नेता और सरकार के मंत्रियों ने भी अपने साथी शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा को इस मुद्दे पर नसीहत दी है. 

कांग्रेस नेता मंत्री को दे रहे नसीहत
आपको बता दें कि, राज्य में सरकार बदलने के बाद राज्य के शिक्षा मंत्री डोटासरा ने जौहर का फोटो स्कूली किताबों के कवर पेज से हटाने का निर्देश दिया था. जिसके बाद पूर्व सांसद और कांग्रेस नेता गोपाल सिंह ईडवा ने शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा को अपना ज्ञान दुरुस्त करने की नसीहत दी है. 

जौहर को बताया ऐतिहासिक तथ्य
इस मुद्दे पर कांग्रेस नेता ईडवा ने कहा है कि जौहर एक ऐतिहासिक तथ्य है जिसे कतई नकारा नहीं जा सकता. उन्होंने यह भी कहा कि जिस जौहर संस्थान के कार्यक्रम में पूर्व राष्ट्रपति से लेकर दूसरे कई प्रमुख प्रबुद्ध जन आ चुके हैं उसे गलत कैसे ठहराया जा सकता है? उन्होंने जौहर को राजस्थान के इतिहास का गौरव बताया.

मंत्री बदलने से नहीं बदलता इतिहास
परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा है कि राज्य में मंत्री बदलने से इतिहास नहीं बदल जाता. उन्होंने यह भी कहा कि जो ऐतिहासिक तथ्य हैं वे किसी सूरत में नहीं बदल सकते. उनमें बदलाव ना तो कांग्रेस ला सकती है ना बीजेपी, ना ही कोई और. उन्होंने कहा, ''जौहर और सती प्रथा में बड़ा अंतर है जिसे सभी को समझना चाहिए.''

बीजेपी पर भी बरसे कांग्रेस के मंत्री
उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी गैरजरूरी मुद्दों को तूल दे रही है. आम लोगों को रोजगार और रोटी तो दे नहीं सकी बस गैरजरूरी विवादों पर ही विपक्षी पार्टी का फोकस रहा है. उन्होंने कहा कि हमें गैर जरूरी मुद्दों को तूल नहीं देना चाहिए.

गहलोत सरकार ने किया इतिहास में दाग लगाने का प्रयास
पाठ्यक्रम में बदलाव को लेकर बीजेपी नेताओं ने भी कांग्रेस पर जमकर हमला बोला. बीजेपी नेताओं का कहना है कि प्रदेश सरकार महाराणा प्रताप को महान नहीं बताना चाहती. इसके अलावा जौहर का चित्र भी हटा रही है. इस सरकार ने विनायक दामोदर सावरकर के नाम के आगे से 'वीर' शब्द हटाकर इतिहास पर दाग लगाने का प्रयास किया है.