close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बाड़मेर: पेयजल आपूर्ति की जा रही दुरुस्त, मॉनिटरिंग के लिए लगी GPS

इस नवीन प्रणाली के चलते किसी भी तरह की अनियमितता की गुंजाइश बेहद कम हो जाएगी.

बाड़मेर: पेयजल आपूर्ति की जा रही दुरुस्त, मॉनिटरिंग के लिए लगी GPS
पेयजलापूर्ति में नवीन तकनीक बेहद खास रहेगी. (प्रतीकात्मक फोटो)

बाड़मेर: सरहदी बाड़मेर जिले में जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग द्वारा ग्रामीण इलाकों में निजी टेंकरों द्वारा पेयजल आपूर्ति शुरू की गई है. इस बार हर टैंकर में जीपीएस सिस्टम लगवाया गया है. जिससे उस टैंकर की टाइम टू टाइम लोकेशन के बारे में जानकारी विभाग के अधिकारियों को मिल रही है. 

इस नवीन प्रणाली के चलते किसी भी तरह की अनियमितता की गुंजाइश बेहद कम हो जाएगी. वहीं पानी परिवहन में किसी भी तरह की लेट लतीफी भी नही होगी. पानी परिवहन करने वाले टेंकरों में जीपीएस के साथ साथ वाटर क्लो मीटर के जरिये सही मात्रा में ग्रामीणों को पेयजल उपलब्ध करवाया जा रहा है. 

जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के बाड़मेर खण्ड के अधिशासी अभियंता हजारी राम बालवा ने बताया कि बाड़मेर में टैंकर शुरू किए है दोनों में ही जीपीएस सिस्टम के जरिये मोनेटरिंग की जा रही है.

बाड़मेर में महावीर नगर हैड से टेंकरों की रवानगी से लेकर उसके सार्वजनिक जलस्रोतों तक पानी डालकर वापस शहर तक पहुंचने की पूरी प्रक्रिया जीपीएस से मॉनिटर की जा रही है.

साथ ही कनिष्ठ एवम सहायक अभियंता द्वारा टैंकरों की रवानगी एवं आगमन पर प्रभावी निरीक्षण भी किया जा रहा है. जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के आईईसी अनुभाग द्वारा ग्रामीण इलाकों में कार्य के प्रति जवाबदेही और दूरस्थ इलाकों तक पेयजलापूर्ति में नवीन तकनीक बेहद खास रहेगी. ग्रामीण क्षेत्रो में इसको लेकर जनजागरण किया जाएगा.