close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बांसवाड़ा में मची गणेश महोत्सव की धूम, झांकियों से दिए जा रहे सामाजिक संदेश

झांकी की प्रतिमा में गणेश भगवान हाथ में तलवार व चाबुक लेकर खड़े है और एक व्यक्ति जो अपनी पत्नी पर घर में अत्याचार कर रहा है जिसे गणपति पकड़ते नजर आ रहे हैं.

बांसवाड़ा में मची गणेश महोत्सव की धूम, झांकियों से दिए जा रहे सामाजिक संदेश
साथ ही शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए भी झांकी बनाई गई है.

अजय ओझा/बांसवाड़ा: राजस्थान के बांसवाड़ा जिले में 10 दिवसीय गणेश महोत्सव बड़ी धूमधाम से मनाया जा रहा है. जिले समेत शहर में सैंकड़ों गणेश प्रतिमाएं जनता ने स्थापित की है. वहीं इन गणेश प्रतिमाओं में कुछ प्रतिमांए ऐसी है जो समाज को एक अलग ही संदेश देती नजर आ रही है. शहर में की सुभाष नगर गणेश मंडल ने इस बार महिला अत्याचार पर गणेश प्रतिमाओ की झांकी बनवाई है. 

इस झांकी की प्रतिमा में गणेश भगवान हाथ में तलवार व चाबुक लेकर खड़े है और एक व्यक्ति जो अपनी पत्नी पर घर में अत्याचार कर रहा है जिसे गणपति पकड़ते नजर आ रहे हैं. वही महिला पंखे से लटकर आत्महत्या कर रही है. इस झांकी से यही संदेश दिया जा रहा है ही शराब के नशे में जो व्यक्ति घर पर महिलाओं के साथ अत्याचार करता है वह बंद कर दे. 

Udaipur

इसके अलावा शहर के प्रगति नगर में भी एक अनोखी प्रतिमा बनाई गई है. यहां पर शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए यह प्रतिमा बनाई गई है. यहां गणेश भगवान शिक्षक बने हैं और छात्र-छात्राओं को पढ़ाते नजर आ रहे हैं. इस प्रतिमा से यह झांकी लोगों को शिक्षा को बढ़ावा दे रही है. गणपति हर बच्चे को पढ़ाने का संदेश दे रहे हैं. 

वहीं शहर के चंद्रपोल गेट के पास स्थापित गणेश प्रतिमा पर्यावरण को बचाने का अलग ही संदेश दे रही है. शहर में लगी यह 3 प्रतिमाओं को देखने के लिए रोजाना सैंकड़ो लोग पहुंच रहे हैं. साथ ही भक्त इन प्रतिमाओं का संदेश देख रहे है और इनके साथ सभी सेल्फी भी ले रहे हैं.

बता दें कि पुराणों के अनुसार गणेश चतुर्थी के दिन ही गणपति का जन्म हुआ था. कई प्रमुख जगहों पर भगवान गणेश की बड़ी प्रतिमा स्थापित की जाती है. नियमों के अनुसार गणपति के स्थापित प्रतिमा की पूजा पूरे नौ दिन की जाती है. महाराष्ट्र में गणेश चतुर्थी को बड़े धूमधाम से मनाया जाता है. इस मौके पर मुंबई के लाल बाग में गणपति की सबसे विशाल प्रतिमा स्थापित की जाती है.