जयपुर: ट्रांसजेंडर समुदाय को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए गहलोत सरकार ने लिया बड़ा फैसला

सामाजिक न्याय अधिकारिता मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल ने कहा राज्य में एकमात्र ट्रांसजेंडर को फीमेल कोटे से पुलिस में सरकारी नौकरी मिली है.

जयपुर: ट्रांसजेंडर समुदाय को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए गहलोत सरकार ने लिया बड़ा फैसला
गहलोत सरकार अब प्रदेश में रह रहे ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए अलग से पहचान पत्र बनाएगी.

जयपुर: गहलोत सरकार ने ट्रांसजेंडर समुदाय को समाज की मुख्यधारा में जोड़ने के लिए बड़ी पहल की है. गहलोत सरकार अब प्रदेश में रह रहे ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए अलग से पहचान पत्र बनाएगी, ताकि इस समुदाय के लोगों को सरकारी नौकरी मिलने में आसानी हो सके. सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल ने कहा की राज्य के कार्मिक विभाग के साथ मिलकर नियम बनाए जाएंगे, ताकि सरकारी नौकरी में भी इस समुदाय की भागीदारी सुनिश्चित हो सके. 

सामाजिक न्याय अधिकारिता मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल ने कहा राज्य में एकमात्र ट्रांसजेंडर को फीमेल कोटे से पुलिस में सरकारी नौकरी मिली है. पहले ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए अलग शब्द था लेकिन अब ट्रांसजेंडर हो गया है. इसलिए पहचान पत्र भी अलग से बनने चाहिए, ताकि इन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ मिल सके. 

खुलेगी सरकारी नौकरी की राह
अलग पहचान पत्र बनने पर सरकार के लिए ट्रांसजेंडर समुदाय को सरकारी नौकरी देने के लिए नियम बनाने में आसानी होगी. सरकार सरकारी नौकरियों में ट्रांसजेंडर समुदाय की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए नियम बनाएगी. ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए अलग से पहचान पत्र बनाने के लिए प्रदेश के सभी जिला कलेक्टर्स को लिखित में आदेश जारी किए जाएंगे. जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में गठित समिति राज्य में रह रहे ट्रांसजेंडर समुदाय की जनगणना करेगी. 

मंत्री भंवरलाल मेघवाल ने कहा कि प्रदेश में वैसे तो ट्रांसजेंडर समुदाय की संख्या एक लाख से अधिक है लेकिन जनगणना के आधार पर राज्य में 16 हजार 517 ट्रांसजेंडर है. सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल ने सचिवालय में राजस्थान ट्रांसजेंडर कल्याण बोर्ड के साथ अहम बैठक की. बैठक में ट्रांसजेंडर समुदाय की समस्याओं पर मंथन किया.

बैठक के बाद किन्नर अखाड़ा की प्रदेश अध्यक्ष पुष्पा माई ने कहा कि मंत्री के साथ हुई बैठक बेहद सकारात्मक रही है. हमारी मांगों पर मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल ने गंभीरता दिखाई है. हमें उम्मीद है कि गहलोत सरकार ट्रांसजेंडर समुदाय को समाज की मुख्यधारा में जोड़ने के लिए पहल करेगी.